वज़न कम करने का अंतिम उपाय – 6 : Aloe Vera से Varicose Veins का उपचार

‘वज़न कम करने का अंतिम उपाय’ वाले राजमार्ग पर चलने से पहले आइये आपको एक छोटी सी गली की सैर करा लाऊँ. ये गली थोड़ी रहस्यमयी है. यूं तो मेरी हर बात आपको रहस्यमयी ही लगती है, जानती हूँ. लेकिन इस गली में आपको उस रहस्य के लिए एक क्लू मिलने वाला है. तो अपनी पुस्तक ‘रहस्य’ में Rhonda Byrne कहती हैं –

Time and size do not exist in the Universe. It is as easy to heal a pimple as a disease. The process is identical; the difference is in our minds. So if you have attracted some affliction to you, reduce it in your mind to the size of a pimple, let go of all negative thoughts, and then focus on the perfection of health. Rhonda Byrne (The Secret)

ऐसे ही आप वज़न कम करने के मेरे उपायों को वज़न कम करने के लिए उपयोग में मत लाइए. हमेशा की तरह आप इस वाक्य से फिर उलझन में पड़ गए होंगे. जी हाँ, ये सारे उपाय जो में एक श्रृंखला के रूप में बता रही हूँ उसको आप वज़न कम करने के लिए उपयोग में मत लाइए. इसका उपयोग फिर भी करना है, लेकिन अपनी चेतना में इस भाव को तटस्थ करने के साथ कि मुझे एक स्वस्थ, नीरोगी और हल्का शरीर चाहिए.

जब आप अस्तित्व के सामने कोई प्रार्थना करते हैं तो आपके मन के भाव के नकारात्मक शब्दों को वह नहीं पहचानता. आप सोचेंगे आपको वज़न कम करना है… तो वो आपके सिर्फ वज़न को लेकर इतने भारी विचार को ही पढ़ेगा और हो सकता है आपका वज़न कम होने के बजाय और बढ़ने लग जाए. इसलिए मन में भाव होना चाहिए आपको एक स्वस्थ और नीरोगी शरीर चाहिए.

मेरी बात को आप और स्पष्ट रूप से समझ सके इसके लिए ही मैंने Rhonda Byrne के इस वक्तव्य का उदाहरण दिया है. अस्तित्व को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपकी बीमारी कितनी गंभीर और पुरानी है. आपके चेहरे पर ऊगे एक पिंपल और किसी असाध्य रोग में उसके लिए कोई अंतर नहीं है. इसलिए अपनी बड़ी से बड़ी बीमारी को भी इतना हलके में लीजिये जैसे कोई छोटी मोटी बात हो. आप उसे जितना नज़रंदाज़ करेंगे, वो उतनी जल्दी अपना अस्तित्व खो देगी.

यकीन मानिए सिर्फ और सिर्फ आपके विचारों के वज़न से कोई रोग इतना भारी हो जाता है कि कई बार वो आपकी देह से तो कब से विदा ले चुका होता है लेकिन आपके भय और उसके प्रति गंभीरता के कारण आपके अचेतन मन से नहीं जाता.

इस लेख को पहली बार पढ़ने वालों को एक बार फिर याद दिला दूं कि सीधे इस लेख में बताये उपाय करने से पहले आपको इसके पहले दिए गए लेखों वाली प्रक्रिया से गुजरना आवश्यक है.

पहला – आपके भाव और ध्यान का महत्व
दूसरा – सूर्य साधना
तीसरा – कुछ ऐसी चीज़ें खाना है जो शरीर से अतिरिक्त वसा कम करने में मदद करती हैं
चौथा – सांस लेने का सही तरीका
पांचवा – Aloe Vera के उपयोग से त्वचा में नई चमक लाइए जिससे शरीर में हो रहे सकारात्मक परिवर्तन से चेतना में भी चमक आए.

उपरोक्त सारी प्रक्रियाओं का जिसने अभ्यास किया है वही इस बात का अर्थ समझ सकता है कि वज़न कम करने के उपायों को वज़न कम करने के लिए उपयोग में क्यों नहीं लाना है.

बाकी पिछली बार ईमेल पता दिया गया था जिससे आप अपनी समस्याओं के बारे में मुझे बता सके. बहुत सारे ईमेल्स आए हैं अलग अलग समस्याओं को लेकर. उनमें से एक समस्या के बारे में मैं यहाँ चर्चा कर रही हूँ क्योंकि उस समस्या का निदान एलोवेरा (Aloe Vera ) यानि ग्वारपाठा से सम्बंधित है. वो समस्या है Varicose Veins की. जिन्होंने अपनी समस्या बताई हैं, उन्होंने अपने पैरों का यह फोटो भी दिया है साथ में.

 

Varicose Veins की समस्या अधिकतर उन लोगों को होती है जिनके पैरों को बहुत अधिक व्यायाम नहीं मिलता. खाने पीने की अनियमितता के कारण भी यह रोग होता है. इसमें पैरों की नसों से खून ह्रदय तक पूरी तरह नहीं पहुँच पाता.

 

 

कारण और भी हैं, लेकिन सब कारणों के पीछे सबसे बड़ा कारण है UNHEALTHY LIFESTYLE. इसके लिए आपको सबसे पहले उपरोक्त पांच भागों में बताई गयी प्रक्रिया करना अनिवार्य है क्योंकि जब तक आत्मा स्वस्थ नहीं होगी शरीर नीरोगी नहीं होगा. फिर उसके साथ आपको अब जो मैं उपाय बता रही हूँ वो भी करना है. और हाँ समस्या यदि बहुत अधिक गंभीर है तो अपने एलोपैथिक डॉक्टर की दवाई भी आपको चालू रखना है.

Aloe Vera से Varicose Veins का उपचार

तो सबसे पहले लीजिये एक गाजर. उसको मिक्सी में अच्छे से पीस कर पेस्ट बना लीजिये.
अब गाजर के पेस्ट की मात्रा के बराबर आपको एलो वेरा का पल्प लेना है. एलोवेरा पल्प निकालने की विधि इसके पहले वाले भाग में बता चुकी हूँ.
अब दोनों पेस्ट को मिलाकर उसमें सिर्फ उतना Apple Cider Vinegar डालना है जितना पैरों को लेप लगाने में काम आये. यानी इतना पतला न हो जाए कि पैरों में लेप की तरह लगाने पर बह जाए.

इसे पैरों पर लगाकर एक घंटे के लिए छोड़ दीजिये. फिर ठन्डे पानी से धो लीजिये.

दिन में जितनी बार समय मिले इसे लगाइए.

सारी सामग्री उपलब्ध ना हो तो सिर्फ एलोवेरा का पल्प भी आप सीधे लगा सकते हैं.

पैरों को धूप से बचाना है, नहाते समय भी पैरों पर गरम पानी नहीं डालना है. हाँ सूर्योदय के पहले यदि आप सूर्य साधना करने बैठे हैं तो उस समय की किरणें अवश्य फायदा करेगी. लेकिन सूर्योदय होने के बाद पैरों को धूप से बचाना है.

आपके स्वस्थ और नीरोगी शरीर के लिए कामना के साथ आज इतना ही. अपनी समस्याएँ आप नीचे लिखे ईमेल पते पर भेज सकते हैं.

editor@makingindiaonline.in

वज़न कम करने का अंतिम उपाय

 

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY