वीडियो : कांग्रेस अध्यक्षा और युवराज सहित पूरी कांग्रेस ही ज़मानत पर, हिमाचल में बोले मोदी

बिलासपुर. हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में एम्स की आधारशिला रखने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर ज़बरदस्त चुटकी ली. कांग्रेस के भ्रष्टाचारों को गिनाते हुए मोदी ने कहा, नेशनल हेराल्ड मामले में कांग्रेस अध्यक्षा और उनका युवराज ज़मानत पर है तो हिमाचल के मुख्यमंत्री भी ज़मानत पर ही बाहर हैं.

प्रधानमंत्री ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘कुछ दिनों पहले कुछ कांग्रेस के मित्र मेरे पास आए. मैंने उनसे पूछा कि हिमाचल के सीएम जमानत पर बाहर हैं आप उन्हें हटाकर किसी और को सीएम क्यों नहीं बनाते? तो उन मित्रों ने कहा कि हमारी पूरी पार्टी ही ज़मानत पर चल रही है.’ पीएम ने कहा कि हिमाचल में भी जनता को जमानती सरकार से मुक्ति मिलनी चाहिए.

पीएम ने कहा, ‘तीन साल हो गए, लेकिन हमारी सरकार पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं है. पहले पूछा जाता था कि कितने रुपये गए और अब पूछा जाता है कि कितने रुपये आए.’

मंगलवार को पीएम मोदी के तेवरों ने स्पष्ट कर दिया कि भाजपा ने राज्य में पार्टी के चुनाव प्रचार का आगाज कर दिया है. इस दौरान पीएम ने कहा कि बिलासपुर में बनने वाले एम्स से सिर्फ हिमाचल प्रदेश को ही नहीं बल्कि पूरे उत्तर भारत को फायदा होगा. इससे राज्य की रोजी रोटी यानी टूरिजम को भी बढ़ावा मिलेगा. पीएम ने इस दौरान जहां अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाया वहीं कांग्रेस सरकार पर निशाना साधने में भी कोई कसर नहीं छोड़ी.

कांग्रेस के दौर में थीं एक सरकार में कई सरकार

पीएम ने पूर्व की यूपीए सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यहां कई साल से महज 70 करोड़ का एक स्टील प्रॉजेक्ट अटका पड़ा था. उन्होंने कहा कि पहले डिपार्टमेंटों में अलग प्रधानमंत्री होता था. एक सरकार में कई सरकार थीं. रिमॉट कंट्रोल से चलने वाला पीएम अलग था. बीजेपी सरकार आने के बाद अटके हुए प्रॉजेक्ट पूरे करने का काम हुआ. अब यहां के लोगों को घर बनाने के लिए सस्ते मूल्यों में सरिया मिलेगा.

एम्स हिमाचल वासियों के लिए संजीवनी

पीएम ने कहा कि आज यहां करीब 1500 करोड़ रुपये के काम को मंजूरी मिली है. कुछ का शिलान्यास हुआ है तो कुछ का लोकार्पण. 1300 करोड़ में बनने वाले एम्स से न सिर्फ हिमाचल को फायदा मिलेगा, बल्कि यहां आने वाले टूरिस्ट और पूरे उत्तर भारत को इसका फायदा होगा. ये एम्स हिमाचल वासियों के लिए तो संजीवनी बनकर आया है, लेकिन टूरिजम को बढ़ाने में अहम कारक बन सकता है. यह अस्पताल पूरे उत्तर भारत के लिए डिजाइन के हिसाब से स्पेस ऑफ द आर्ट बनेगा. ऐसे में हिमाचल के लिए इस संस्थान से उत्तम से उत्तम उपचार और रोजगार की संभावनाएं मिलेंगी. इस अस्पताल में एक साथ 3 हजार लोग काम कर सकेंगे.

बच्चों के टीकाकरण की इंद्रधनुष योजना

पीएम ने इस दौरान केंद्रीय मंत्री नड्डा और स्वास्थ्य कार्यक्रम इंद्र धनुष की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि हमारे देश में लाखों बच्चे कोई न कोई टीका लगने से छूट जाते हैं. इन बच्चों को बचाने का काम स्वास्थ्य मंत्री नड्डा जी ने शुरू किया. इंद्र धनुष कार्यक्रम के तहत टीकाकरण का काम कराया. इस सप्ताह फिर से इस योजना के माध्यम से छूट गए बच्चों को टीका लगाया जाएगा. दिवाली से पहले ऐसे बच्चों को टीका लगाना है. इस दौरान पीएम ने बीजेपी, आम जनता, राजनीतिक दलों और एनजीओ को ऐसे बच्चों को खोजने को कहा जिनको टीका नहीं लग पाया है.

वन रैंक वन पेंशन

पीएम ने कहा, ‘ओआरओपी का मामला 40 साल से अटका था. मंडी में अपनी रैली में मैंने ऐलान किया था कि हम इस पर फैसला लेंगे. ओआरओपी में दो किश्त जा चुकी हैं. एक किश्त और जल्द ही दी जाएगी. इससे बजट का अतिरिक्त बोझ बढ़ेगा, लेकिन मेरे लिए सेना का जवान प्रथम है.’

सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह में मीडिया की अहम भूमिका

पीएम ने कहा कि तीन दिन पहले सर्जिकल स्ट्राइक का प्रथम वर्ष मनाया गया. इसमें मीडिया ने अहम भूमिका निभाई. लोगों तक उस कहानी को पहुंचाया. जैसे सर्जिकल स्ट्राइक की कहानी चैनलों ने दिखाई पीएम ने उसके प्रति मीडिया का आभार व्यक्त किया. कई वर्षों के बाद सेना के लोगों को मनोबल ऊंचा है. पीएम ने कहा कि इसी मनोबल के बूते भारत ने भी बता दिया है कि हम किसी से कम नहीं हैं.

हिमाचल में होगा 15 हजार करोड़ का निवेश

पीएम ने कहा कि हिमाचल में इन दिनों करीब 13 प्रॉजेक्ट चल रहे हैं. इनमें रेलवे, पेट्रोलियम और अन्य डिपार्टमेंट के प्रॉजेक्ट हैं. भारत सरकार इन प्रॉजेक्ट में 15 हजार करोड़ रुपये लगाएगी. जो व्यवस्था विकसित होगी वह हिमाचल को आगे बढ़ाने में योगदान देगी. स्वच्छता की दिशा में हिमाचल के नागरिकों ने जो काम किया है. वह तारीफ के लायक है. इसके लिए पीएम ने नागरिकों और अधिकारियों को बधाई दी.

समझाई बिजली की सौभाग्य योजना

पीएम ने कहा कि सड़क और बिजली किसी भी राज्य के विकास में सबसे ज्यादा अहमियत रखती हैं. अगर ऐसा होगा तो टूरिस्ट भी हिमाचल में खूब आएगा. हमने 1000 दिन का अभियान उठाया है कि एक गांव भी ऐसा न बचे, जहां बिजली न हो. अगर कोई झुग्गी झोपड़ी में रहता होगा, तो भी उसे बिजली का कनेक्शन मिलना चाहिए. हमारे पास अब भी चार करोड़ परिवार ऐसे हैं, जिन्हें बिजली नहीं मिली है. सौभाग्य योजना के तहत इन 4 करोड़ परिवारों को मुफ्त में कनेक्शन दिया जाएगा.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY