रूस के नरभक्षी : मानव मांस का बनाया अचार, अबतक खाए 30 इंसान

मॉस्को. रूस की पुलिस ने दक्षिणी रूस से एक कथित नरभक्षी पति-पत्नी को हिरासत में लिया है. पुलिस को इनके पास से फिलहाल 8 मानव अंग मिले हैं. इस दम्पति ने माना है कि उन्होंने बीते 18 सालों में 30 लोगों को मारकर खाया है.

हिरासत में लिए गए दिमित्री बकशीव और उसकी पत्नी नतालिया ने अपने घर में एक तहखाना बना रखा था जहां वे अपने शिकार किए हुए लोगों के शरीर के अंग रखते थे और फिर उनके साथ सेल्फी लेते थे.

नतालिया पेशे से नर्स है. पुलिस के मुताबिक नतालिया अपने पति से 7 साल बड़ी है. अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि दोनों कितने सालों से शादीशुदा हैं. फिलहाल पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया है.

पुलिस को अभी तक मानव अंगों के 7 संरक्षित पैकेट मिले हैं. कुछ मांस को यह जोड़ा डिब्बों में रखता था और फिर उनमें मसाले डालकर उनका अचार बनाता था. मृत लोगों के शरीर से त्वचा भी उधेड़कर रखी जाती थी, पुलिस को इसके 19 अवशेष मिले हैं.

1999 से कर रहा था यह काम

दक्षिणी रूस में रहने वाले 35 वर्षीय दिमित्री ने माना है कि उसने डर का यह भयानक खेल साल 1999 में शुरू किया था. दिमित्री की एक तस्वीर भी जारी की गई है जिसमें वह अपनी एक 35 साल की शिकार के साथ दिख रहा है. हालांकि इस महिला का नाम जाहिर नहीं किया गया है.

मानसिक तौर पर स्वस्थ है नतालिया

स्थानीय मीडिया के मुताबिक हिरासत में लिए जाने के बाद नतालिया के मनोरोग से जुड़े टेस्ट्स करवाए गए हैं जिसमें वह मानसिक तौर पर स्वस्थ बताई गई है. खबरों के मुताबिक टेस्ट रिपोर्ट्स से साफ पता लगता है कि नतालिया पूरी तरह ठीक है और उसने जो भी किया है उसे उसकी पूरी जानकारी है.

रूसी जांचकर्ताओं के मुताबिक बकशीव और उसकी पत्नी मानव शवों के अंगों को अपने फ्रीजर में रखते थे. इसके अलावा उन्होंने घर में ही एक तहखाना बनाया था जहां पर कुछ अंग रखते थे, कुछ अंगों को डिब्बों में रखा जाता था.

मोबाइल फोन से संभव हुई गिरफ्तारी

इस जोड़े को तब गिरफ्तार किया गया जब क्रसनदर शहर में एक मोबाइल फोन किसी के हाथ लगा. इस फोन में एक शख्स की मरे हुए लोगों के अंगों के साथ खींची हुई सेल्फी थीं. जब कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने इस जोड़े से पूछताछ की तो दोनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY