Recipe : नवरात्रि में बनाएं बिना प्याज़ लहसुन के छोले

Recipe Chhole

आमतौर पर काबुली छोले की Recipe में प्याज़, लहसुन आदि होता ही है.  लेकिन विशेष त्यौहारों के समय जैसे नवरात्र के समय सात्विक भोजन का चलन है. मेरे मायके में वैसे भी प्याज़ लहसुन आदि का प्रयोग नहीं होता था और फिर भी भोजन उतना ही स्वादिष्ट होता था, जितना कि सारे मसाले डाल कर बनाए भोजन में होता है. हाँ, इसमें मेरी माँ के हाथों का जादू भी अवश्य होता था.

मेरी माँ छोलों में प्याज के स्थान पर पोस्तो या खसखस का प्रयोग करती थीं. कभी-कभार चारमगज भी पीस कर डालती थीं और जो स्वाद होता था कि क्या और कैसे बताऊँ. इसके लिए आपको स्वयं इस तरह बना कर खाना होगा.

Ingredients

उबले छोले
टमाटर
हरी मिर्च
और
हरा धनिया

मसाले के लिए –

हींग
धनिया पाउडर
थोड़ा सा कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर
खसखस या चारमगज पिसा हुआ
कसूरी मेथी
तेजपत्ता
अमचूर
नमक
हल्दी
और
चुटकी भर चीनी ( मिठास के लिए नहीं बल्कि नमक के तीखेपन को मारने के लिए )

बाकी छोले बनाने की Recipe वही होगी जैसी बनाई जाती है, बस मसाले ऊपर बताये गए डालना है. एकबार ये वैष्णव छोले बना कर देख ही लें.

सुनीता दमयंती की अन्य Recipe पढ़ने के लिए नीचे दी गयी लिंक पर क्लिक करें

उत्तरी भारत के शाकाहारी अतिथियों का स्वागत जब बंगाल में हो और बंगाली खाद्य का स्वाद उन्हें न मिले तो बंगाली संस्कृति से परिचय अधूरा है. लेकिन बंगाल तो मूलतः मछलीहारी तो क्या हो? शाकाहारियों के लिए बंगाली स्वाद नहीं? ऐसा संभव ही नहीं….

ठीक ऐसे ही इलिश माछ भी बनायी जाती है. पनीर के स्थान पर इलिश मछली डाल दें.

टिपिकल बंगाली डिश का शाकाहारी रूपांतरण यह – भापा पनीर

Read more

पनीर भापा : बंगाली डिश इलिश माछ का शाकाहारी रूपांतरण

माँ की रसोई से रेसिपी पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें – माँ की रसोई से

 

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY