‘वो’ भले हमारे त्यौहार में शामिल हों, ‘तुम’ कैसे मना सकते हो ‘उनका’ त्यौहार!

भारत के प्रसिद्ध पूर्व क्रिकेटर और तेज़ गेंदबाज़ इरफ़ान पठान एक बार फिर अपनी सोशल मीडिया की पोस्ट की वजह से ट्रोल के निशाने पर हैं. इरफा़न ने अपने इंस्ट्रागाम, फेसबुक और ट्वीटर अकाउंट पर रक्षा बंधन की बधाई देते हुए सेल्फी पोस्ट की, जिसमें वे कलाई पर राखी बांधे हुए हैं.

इसके बाद से सोशल मीडिया में उनके फ़ालोवर्स पर बहस छिड़ गई और सर्वधर्म समभाव जैसी भावनाओं को दरकिनार करते हुए उनके हम-मज़हब लोगों ने जमकर इरफान को भला बुरा कहा. इससे पहले भी इरफ़ान सोशल मीडिया पर ट्रोल का शिकार हो चुके हैं, जब उन्होंने इरफ़ान ने सोशल मीडिया पर अपनी पत्नी की एक तस्वीर शेयर की थी.

उस तस्वीर में हालांकि उनकी पत्नी ने ने हिजाब पहना हुआ था और तस्वीर में वह अपने हाथों से अपने चेहरे को ढंके हुए थीं, फिर भी वे कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गए थे और कुछ लोगों ने इसे ‘गैर इस्लामिक’ करार दे दिया था.

इस बार भी इरफान की राखी वाली तस्वीर पर टिप्पणी करते हुए एक फेसबुक यूज़र ने लिखा – शर्म आनी चाहिए इरफ़ान भाई आपको, आपके वालिद मौलवी है फिर भी आप हराम कर रहे हो. जो काम इस्लाम में हराम और नाजायज़ करार दिया गया है उसको आप के करने से जायज़ नहीं हो जाएगा.

हालांकि फेसबुक पर इरफ़ान को अन्य यूजर्स का साथ भी मिला. ऐसे एक यूज़र ने लिखा कि जाति, धर्म, मज़हब, इन सबसे ऊपर उठकर पूरे राष्ट्र को एकता के सूत्र में बांधने वाले भाई-बहन के पवित्र पर्व रक्षाबंधन कि आप सभी को हार्दिक बधाई.

वहीं एक महिला फेसबुक यूज़र ने लिखा- इरफ़ान भाई इस्लाम इसकी इजाज़त नहीं देता. इसके जवाब में एक यूज़र ने लिखा कि मैं रक्षा बंधन नहीं मानता. हर साल दो-चार हिंदू बहन मुझे राखी जरूर बांधती है. इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता. जबकि एक अन्य ने सलाह देने के अंदाज देते हुए लिखा कि- भाई तुम बहुत बिगड़ गये हो, तुम्हारे हाथ में राखी क्यों है. आप को मोईन अली और हाशिम अमला को फॉलो करना चाहिए.

कुछ यूज़र्स ने लिखा कि इरफान तुम्हें लाइम लाइट में रहना हो तो कुछ और करो. इस्लाम के सिद्दांतों के साथ नहीं खेलो. वहीं एक दूसरे यूजर्स ने लिखा कि एक मुस्लिम दूसरे मुस्लिम को महज़ राखी बांधने पर अपमान करें ये बात इस्लाम के आदर्शों के उलट है.

हाल ही में इरफ़ान ने सोशल मीडिया पर अपनी पत्नी की एक तस्वीर शेयर की और इसके साथ ही मज़ाक के तौर पर अपनी पत्नी को ‘मुसीबत’ बताया. इरफान ने शायद कल्पना भी नहीं की होगी कि मजाक में कही गई यह बात उनके लिए मुसीबत बन जाएगी.

इस तस्वीर में उनकी पत्नी सफा बेग ने हिजाब पहना हुआ है और वह अपने हाथों से अपने चेहरे को ढंके हुए हैं. इस तस्वीर को पोस्ट करते ही इरफान धार्मिक कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गए और कुछ लोगों ने इसे ‘गैर इस्लामिक’ करार दे दिया था.

हालांकि इरफान इस सब से भयभीत नहीं हुए और फेसबुक पर इस तरह की प्रतिक्रिया मिलने के बाद उन्होंने ट्विटर पर भी इस तस्वीर को डाला और साथ में लिख दिया कि ‘कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना’.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY