गुजरात कांग्रेस के विधायकों के पनाहगार, कर्नाटक के मंत्री पर आयकर विभाग का छापा

बंगलुरु. कर्नाटक की राजधानी बंगलुरु में गुजरात कांग्रेस के विधायकों को अपने रिसॉर्ट में ठहराने वाले राज्य के ऊर्जा मंत्री डी के शिवकुमार के घर आयकर विभाग की छापेमारी हुई है. छापे बुधवार सुबह 7 बजे से शुरू हुए हैं. बताया जा रहा है कि शिवकुमार के खिलाफ एक जांच चल रही है, जिसमें मार्च में उन्हें समन किया था.

उल्लेखनीय है कि गुजरात कांग्रेस के विधायकों में पार्टी छोड़-छोड़ कर भाजपा में जाने की होड़ से परेशान कांग्रेस आलाकमान के निर्देश पर 42 कांग्रेस विधायकों को बंगलुरु ले जाया गया है. अगले हफ्ते होने जा रहे राज्यसभा चुनाव में सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल को संभावित हार से बचाने के लिए यह कदम उठाया गया है.

बंगलुरु में राज्य के ऊर्जा मंत्री डी के शिवकुमार ही कांग्रेस के 42 विधायकों के ठहरने का इंतजाम देख रहे हैं. कांग्रेस के एमएलसी गोविंद राजू के यहां छापेमारी के दौरान एक डायरी मिली थी. इस डायरी में शिवकुमार समेत कई कांग्रेस के नाम थे.

आरोप था कि कांग्रेस के बड़े लोगों को घूस की रकम दी जा रही है. शिवकुमार को पूछताछ के लिए बुलाया गया था, लेकिन उनके जवाब से आयकर विभाग संतुष्ट नहीं था. इसलिए आयकर विभाग ने उनके खिलाफ पहले जांच की और उसी मामले में छापेमारी की.

आयकर सूत्रों के मुताबिक, छापेमारी सिर्फ डी के शिवकुमार के घर पर की गई है. इस छापेमारी का गुजरात के 42 कांग्रेस विधायकों से कोई लेना देना नहीं है और न ही रिसॉर्ट में छापेमारी की गई है. हालांकि पहले खबर थी की आयकर ने उस रिसॉर्ट में भी छापेमारी की है जहां कांग्रेस के 42 विधायक ठहरे हुए हैं, लेकिन आयकर ने इससे इनकार कर दिया है.

उल्लेखनीय है कि गुजरात कांग्रेस के 57 विधायकों में से 6 विधायकों ने इस्तीफा दे चुके हैं. बचे-खुचे विधायकों को पार्टी छोड़ने से रोकने के लिए कांग्रेस आलाकमान ने उन्हें प्रदेश के बाहर ले जाने का फरमान दिया. कांग्रेस के लिए चिंता की बात यह है कि बचे हुए 51 विधायकों में से सिर्फ 42 विधायक ही बंगलुरु आने को राज़ी हुए.

कहने को तो कांग्रेस के पास अब भी 51 विधायक हैं, लेकिन कांग्रेस को ही भरोसा नहीं है कि इन 51 में से कितने विधायक उसके साथ हैं. कांग्रेस के भरत सिंह सोलंकी के मुताबिक़ सिर्फ 44 विधायक उनके साथ हैं, जबकि अहमद पटेल को जीतने के लिए 47 विधायकों की दरकार है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY