गोवा के बाद अब दिग्विजय से तेलंगाना का भी प्रभार छिना

नई दिल्ली. कांग्रेस महासचिव और मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के पार्टी में घटते कद का अंदाज़ मंगलवार को ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की एक नई कमेटी की घोषणा से हुआ.

इस कमेटी में पार्टी महासचिव दिग्विजय सिंह को तेलंगाना में पार्टी के प्रभारी पद से हटाकर आर सी खूंटिया को इस पद पर नियुक्त किया. इससे पहले दिग्विजय से गोवा का प्रभार भी छीन लिया गया था.

कांग्रेस की एक विज्ञप्ति के मुताबिक, “तेलंगाना में पार्टी के मामलों को देखने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की एक नई कमेटी को मंजूरी दी है. आर सी खूंटिया को तेलंगाना में पार्टी का प्रभारी बनाया गया है. पार्टी से संबंधित कार्यो में खूंटिया की मदद पार्टी सचिव के रूप में सतीश जारकिहोली करेंगे.”

गोवा चुनाव के बाद से ही संगठन में दिग्विजय की भूमिका सीमित करने की चर्चा शुरू हो गई थी. विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी के रुप में उभरने के बावजूद गोवा की हाथ आयी सत्ता कांग्रेस से छिन जाने के लिए उन्हें ही जिम्मेदार माना गया था.

इसीलिए कुछ समय पहले ही, अप्रैल में उनको गोवा के प्रभारी पद से हटाया गया था और मंगलवार को तेलंगाना की जिम्मेदारी से भी उन्हें छुट्टी दे दी गई.

गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह अपने कार्यकल में अपने कामकाज से ज्यादा कई विवादास्पद बयान देकर सुर्खियों में छाये रहे.

आज हुए फेरबदल के बाद शशि थरूर को पार्टी के नवगठित आल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस विभाग का अध्यक्ष बनाया गया है. समझा जा रहा है कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पेशेवर मध्यम वर्ग को पार्टी से जोड़ने की नीयत से यह विभाग बनाया है.

इस संगठन को चार क्षेत्रीय इलाकों में भी बांटा गया है. इसमें पश्चिम क्षेत्र की जिम्मेदारी मिलिंद देवड़ा और पूर्वी क्षेत्र की सांसद गौरव गोगोई, उत्तर क्षेत्र की सलमान सोज और दक्षिण क्षेत्र की डॉ गीता रेड्डी को दी गई है.

वहीं असंगठित क्षेत्र के लोगों को पार्टी से जोड़ने के लिए आल इंडिया असंगठित वर्कर्स कांग्रेस का नया विभाग बनाया गया है. असंगठित वर्कर्स कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर अरविंद सिंह को नियुक्त किया गया है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY