प्रतिबंधों की प्रतिक्रिया में पुतिन ने 755 अमेरिकी राजनयिकों को रूस छोड़ने को कहा

मॉस्को. अमेरिका की तरफ से कड़े प्रतिबंध लागू किए जाने के बाद रूस ने अमेरिका के 755 राजनयिकों को रूस छोड़ने को कहा है. यह आधुनिक इतिहास में किसी भी देश से राजनयिकों का सबसे बड़ा निष्कासन है. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अमेरिका को कड़ी चेतावनी देते हुए रूसी टेलीविजन को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि अमेरिका के 755 राजनयिकों को रूस से छोड़ना होगा.

चेतावनी भरे लहजे में रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि हो सकता है कि वॉशिंगटन के साथ लंबे समय तक संबंधों में सुधार नहीं हो. अमेरिका की तरफ से कड़े प्रतिबंध लागू किए जाने के बाद रूस ने यह कदम उठाया है. अमेरिकी सीनेट ने वृहस्पतिवार को एक विधेयक को मंजूरी दी जिसमें 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में रूस के कथित तौर पर संलिप्त रहने और 2014 में क्रीमिया पर कब्जे के लिए प्रतिबंध कड़े करने की बात है.

अमरीका ने रूस के इस क़दम को अफ़सोसजनक बताया है. अमरीकी स्टेट डिपार्टमेंट के एक अधिकारी ने कहा, ‘हम इसके प्रभाव का आकलन कर रहे हैं और साथ ही कि कैसे इसका जवाब दिया जाए.’

रूस के विदेश मंत्रालय ने पहले मांग की थी कि वॉशिंगटन रूस में सितम्बर तक राजनयिकों की संख्या कम कर 455 तक करे. इतने ही रूसी राजनयिक अमेरिका में हैं. पुतिन ने रोसिया-24 टेलीविजन को दिए साक्षात्कार में कहा कि अमेरिका के दूतावास और महावाणिज्य दूतावासों में एक हजार से ज्यादा लोग काम कर रहे थे और अब भी काम कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, 755 लोगों को रूस में अपना काम बंद करना होगा. पुतिन ने कहा कि वॉशिंगटन के साथ रूस के संबंधों में जल्द कोई बदलाव की उम्मीद नहीं है. उन्होंने कहा, हमने काफी इंतजार किया, हमें उम्मीद थी कि स्थिति बेहतर होगी. पुतिन ने कहा, ऐसा लगता है कि अगर संबंधों में बदलाव आते हैं, तो यह जल्दी नहीं होगा.

हालांकि यह फ़ैसला शुक्रवार को ले लिया गया था लेकिन पुतिन ने संख्या की पुष्टि अब की है जिन्हें एक सितंबर तक रूस छोड़ने को कहा गया है. यानी अब एक सितंबर के बाद रूस में अमरीकी कर्मचारियों की संख्या वाशिंगटन के बराबर 455 हो जाएगी.

पुतिन ने कहा कि वो और क़दम उठा सकते थे लेकिन अभी वो इसके ख़िलाफ़ हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सीरिया में अप्रसार क्षेत्र का निर्माण साथ काम करने का ठोस परिणाम है. उन्होंने कहा, ‘हमने स्थिति बेहतर हो इसके लिए काफ़ी लंबे समय तक इंतज़ार किया. स्थिति बदल भी रही है लेकिन तुरंत ही इसमें सुधार हो इसकी संभावना कम ही दिखती है.’

रूस ने इसके साथ ही अमरीकी राजनयिकों द्वारा इस्तेमाल की जा रही हॉलिडे प्रॉपर्टी और गोदाम को भी वापस लेने की घोषणा की.

गौरतलब है कि दिसंबर में ओबामा प्रशासन ने हिलेरी क्लिंटन के अभियान के कथित हैकिंग के जवाब में अमरीका में दो रूसी अहाते को अपने कब्ज़े में लेने के साथ ही 35 रूसी राजनयिकों को निष्कासित किया था.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY