जेटली के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द के इस्तेमाल पर जेठमलानी ने खोली केजरीवाल की पोल

नई दिल्ली. हाल तक अरविन्द केजरीवाल के वकील रहे राम जेठमलानी ने अब केजरीवाल के खिलाफ ही सीधा मोर्चा खोल दिया है. केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द इस्तेमाल के मामले में उन्होंने केजरीवाल की पोल खोलते हुए कहा है कि खुद केजरीवाल ने ही कहा था कि वह जेटली के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करें.

देश के मशहूर वकील राम जेठमलानी ने एक बड़ा बयान देते हुए दावा किया है कि वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ अपमाजनक शब्दों का इस्तेमाल करने की नसीहत खुद अरविंद केजरीवाल ने दी थी. जेठमलानी ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने कई बार वित्त मंत्री के खिलाफ गलत शब्द बोले हैं.

जेटली की ओर से दर्ज कराए गए मानहानि के मुकदमे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से अभी तक वकील रहे जेठमलानी ने बीती 20 जुलाई को खुद को इस मुकदमे से अलग कर लिया था.

दरअसल यह मामला उस समय से चर्चा में आया जब अदालत में अरविंद केजरीवाल ने कह दिया कि मानहानि के मुकदमे की सुनवाई के दौरान उनके वकील राम जेठमलानी ने अपनी ओर से अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया है.

इस बात से जेठमलानी नाराज हो गए और अब मीडिया में छपी रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने केजरीवाल को एक चिट्ठी लिखी और इसकी एक कॉपी वित्त मंत्री जेटली को भी भेज दी.

केजरीवाल को लिखे खत में जेठमलानी ने कहा, ‘जब अरुण जेटली ने पहला मुकदमा दायर किया था, आप मेरे पास पैरवी कराने के लिए आए. आप खुद से पूछें कि आपने कितनी बार जेटली के लिए गलत शब्दों का इस्तेमाल किया.’

केजरीवाल को जेठमलानी ने खत में लिखा, ‘आपने मुझे सैंकड़ो बार जेटली को सबक सिखाने को कहा. पिछले कुछ हफ्तों में आप मुझसे बहुत कम वक्त के लिए मिले. जबकि आपके सहयोगी राघव चड्ढा और एडवोकेट अनुपम श्रीवास्तव इस मामले में मुझे विवरण देते रहे हैं.’

जेठमलानी ने इस पत्र में अरविंद केजरीवाल को जेटली से सुलह करने की भी सलाह दी है. उन्होंने कहा वह अब उनके बचाव में वापस नहीं उतरेंगे और पहले वाले मानहानि मामले में पैरवी करने की फीस भी अदा करने के लिए कहा है.

उल्लेखनीय है कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली क्रिकेट बोर्ड में भ्रष्टाचार का आरोप अरुण जेटली के खिलाफ लगाया था. इस पर जेटली ने दिल्ली की अदालत में मानहानि का मुकदमा दर्ज करवा दिया. इस मामले में केजरीवाल ने अपना वकील राम जेठमलानी को चुना.

अदालत में जेठमलानी और अरुण जेटली के बीच हुए सवाल-जवाब उस समय चर्चा का विषय बने थे क्योंकि दोनों ही देश के जाने-माने वकील हैं. इस बीच 17 मई को ही सुनवाई में जेठमलानी ने जेटली के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी कर दी तो जेटली ने कहा है कि अगर आपने ये शब्द अपने मुवक्किल के कहने प्रयोग किए हैं तो वह मानहानि का एक और मुकदमा दायर करेंगे.

इस पर जेठमलानी ने कहा कि हां, उनके मुवक्किल ने ही ऐसा करने के लिए कहा है. इस पर अरुण जेटली ने एक और मुकदमा ठोंक दिया और हर्जाने के तौर पर उनसे 10 करोड़ रुपए मांगे.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY