राहुल ने मोदी को कहा हिटलर, तो स्मृति ने याद दिला दी कांग्रेसी करतूत

नई दिल्ली. केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हिटलर कहने पर ट्विटर पर जमकर धुलाई कर दी. स्मृति ईरानी ने कहा कि इस विषय पर बात करने के लिए राहुल गांधी 42 साल देर हो गए. हिटलर से कौन प्रेरित है यह बताने की जरूरत नहीं है. किसने आपातकाल लगाया और लोकतंत्र को किसने कुचला यह सब को पता है.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा ‘उनका कहना है कि रोहित वमूला ने आत्महत्या की. मैंने इसे हत्या कहा. ये हत्या दुर्व्यवहार का सामना करने के कारण हुई. उसे इसलिए मार दिया गया क्योंकि वह एक दलित था.’

राहुल गांधी के इस बयान के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने उन्हें अपने अपनी पार्टी का इतिहास देखने की बात कही. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का भविष्य धूमिल है अपने देश का नहीं. उन्होंने शुक्रवार देर रात उन्होंने ट्वीट कर राहुल गांधी को धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि ‘आपने जो कुछ भी किया है उसके लिए आपको भाजपा की ओर से धन्यवाद.’

इससे पहले, राहुल गांधी ने बेंगलुरु में एक कार्यक्रम के दौरान को भाजपा की एनडीए सरकार को तानाशाह वाली सरकार बताया था. राहुल गांधी ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की हिटलर से तुलना की और कहा कि केंद्र सरकार पर झूठ बोलकर गरीबों पर अत्याचार कर रही है.

राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा झूठ को छिपाने की कोशिश कर रही है. जिससे वह भारत एक बार फिर राजतंत्र को वापस ला सकें और कोई उनसे सवाल न करे. जहां लोगों को ताकत से कुचल दिया जाता है और उनकी आवाज को दबा दिया जाता है. जहां गरीब और कमजोर लोगों को कुचल दिया जाता है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी एक तानाशाह हैं और उनके साथी भी उनके खिलाफ आवाज उठाने से खौफ खाते हैं. वह एक ऐसे राजा की तरह हैं जिसकी असलियत सब जानते हैं पर उनके आस पास के लोग उन्हें कुछ कहने की हिम्मत नहीं कर पाते हैं.

राहुल गांधी ने कहा, ‘हिटलर नाम का एक शख्स था और उसने एक बार लिखा था कि हकीकत पर बहुत मजबूत पकड़ रखो ताकि आप किसी भी वक्त इसका गला घोंट सको और हमारे चारों ओर यही हो रहा है. हकीकत का गला घोंटा जा रहा है.’ उन्होंने कहा कि मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY