मोहम्मद अनवर बने अमर, अपने ही समुदाय के लोगों से थे परेशान

बेगुसराय. बिहार के बेगूसराय में एक मुसलमान वकील ने अपने ही समुदाय के लोगों की प्रताड़ना से तंग आकर अपने पूरे परिवार के साथ हिंदू धर्म अपना लिया. मामला नगर थाना क्षेत्र के पोखरिया का है.

पेशे से वकील मोहम्मद अनवर यहां अपने पूरे परिवार के साथ रहते हैं. अनवर ने गंगा जल पीकर और हवन कर सनातन धर्म स्वीकर किया. इसके बाद अनवर का नया नाम अमर हो गया है.

अनवर ने नगर थाना क्षेत्र के स्वामी सहजानंद नगर स्थित शिव मंदिर में स्वेच्छा से अपने दो पुत्रों के साथ मुस्लिम धर्म को छोड़कर हिन्दू धर्म स्वीकार कर लिया इसके बाद उन्‍होंने धोती, जनेऊ, कुश की अंगूठी धारण कर पूजा-अर्चना की

अधिवक्ता अमर ने कहा कि वो हमेशा हिन्दू और मुस्लिम दोनों समुदायों की सभी धार्मिक गतिविधियों में हिस्सा लिया करते थे. अमर ने बताया कि उनकी ऐसी गतिविधियों से मुस्लिम समाज के कुछ लोग नाराज थे और उन्हें प्रताड़ित किया जाता था. जिसके चलते उन्होंने ये कदम उठाया.

अनवर ने सिर्फ खुद ही सनातन धर्म नहीं अपनाया. बल्कि वो अपने पूरे परिवार के साथ इस धर्म का हिस्सा हो गए. अनवर ने अपने दोनों बेटे आमिर सुबहानी और समीर सुबहानी का भी धर्म परिवर्तन करा दिया.

अमर ने बताया कि सनातन धर्म में उनकी हमेशा से आस्था रही है. हम शुरू से ही मंदिर में चंदा देते आए हैं और पूजा पाठ में भागीदारी होती रही है. उन्होंने बताया कि हम हिंदू धर्म के अंतिम क्रिया कर्म में भी हिस्सा लेते आए हैं. अमर ने बताया कि हिंदू समाज के लोग उनकी  हमेशा मदद करते आए हैं.

धर्म परिवर्तन कार्यक्रम के दौरान मौजूद बजरंग दल के जिला संयोजक शुभम भारद्वाज ने बताया कि देश में लाखों ऐसे मुस्लिम और ईसाई परिवार हैं जो अपने धर्म के कट्टरपन से परेशान होकर सनातन धर्म को अपनाना चाह रहे हैं.

मंगलवार को कोर्ट में शपथ पत्र दाखिल कर अनवर ने स्वेच्छा से घर वापसी और सनातन धर्म कबूलने की बात कही फिर देर शाम शिव मंदिर में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच हिन्दू धर्म अपना लिया.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY