पूजा का भी कहीं कोई शास्त्र है? प्रार्थना की भी कोई विधि है?

रामकृष्ण के जीवन में ऐसा उल्लेख है. एक शूद्र महिला, रानी रासमणि ने मंदिर बनवाया. चूंकि वह शूद्र थी, उसके मंदिर में कोई ब्राह्मण पूजा करने को राजी न हुआ. हालांकि रासमणि खुद भी कभी मंदिर में अंदर नहीं गई थी, क्योंकि कहीं मंदिर अपवित्र न हो जाए! यह तो ब्राह्मण होने का लक्षण हुआ. … Continue reading पूजा का भी कहीं कोई शास्त्र है? प्रार्थना की भी कोई विधि है?