मोदी निर्मोही हैं, कभी भूलते नहीं विश्वासघात और शत्रुता

मुझे शुरू से ही ज्योतिष में रूचि रही है लेकिन आता नहीं है. आज ऐसे ही कुछ वर्ष पुराना वाकया याद आ गया है. यह ऐसा वाकया है जिसका मैंने दो-चार लोगों के सिवाय किसी से भी जिक्र नहीं किया है. अब क्योंकि यह विषयवस्तु कुंडली और उस पर की गयी भविष्यवाणी से सम्बंधित था, … Continue reading मोदी निर्मोही हैं, कभी भूलते नहीं विश्वासघात और शत्रुता