जीवनदीप : अंजलि को दोबारा उसके पैरों पर खड़े होने के लिए चाहिए आपका अंजुलि भर हौसला

गुजरात से मेरे किसी फेसबुक फॉलोवर दोस्त ने मुझसे फोन पर संपर्क कर यह जानकारी दी.. वही आपके सामने रख रहा हूँ. इस बच्ची का नाम अंजलि त्रिवेदी है. पिछले महीने की 29 मई 2017 को मुंबई में जब ये कहीं जा रही थी.. तो पीछे से आ रहे रेत से भरे ट्रक ने अंजलि की गाड़ी को जोर से ठोकर मार दी और अंजलि उस ट्रक के पहियों के नीचे आ गयी..

उसका शरीर ट्रक के साथ काफी दूर तक घसीटता रहा.. जिसकी वजह से उसके दाहिने पैर के चीथड़े उड़ गए. आसपास के लोगों ने उसे ट्रक के नीचे से किसी तरह निकाल कर नजदीकी हॉस्पिटल में भर्ती करवाया.. परिवारवालों को सूचना दी गयी. अंजलि मुंबई के उस हॉस्पिटल में तक़रीबन 5 दिन भर्ती रही.

क्योंकि अंजलि का परिवार गुजरात के वडोदरा से है. इसलिए परिवार के सभी लोगों ने बेहतर इलाज के लिए उसे वडोदरा के भाईलाल आमीन जनरल हॉस्पिटल में भर्ती करवाया.. अंजलि के पैर की हालत आप देख ही रहे हैं.. इतनी गंभीर दुर्घटना के बाद भी उसकी जान बच गयी, यह किसी चमत्कार से कम नहीं है दोस्तों.

डॉक्टरों ने बताया की पैर को पूरी तरह से ठीक होने में कम से कम 6 महीन का वक़्त लगेगा.. इस बीच उसके पैर की 4-5 बार प्लास्टिक सर्जरी करनी होगी. साथ ही उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया है की अंजलि दोबारा अपने पैरो पर जल्दी से जल्दी ही चलने लगेगी.. क्योंकि अंदर की हड्डियों को कम नुकसान पंहुचा है.. इसलिए पैर जल्दी ही मजबूती के साथ ठीक हो जाएगा.

दोस्तों अंजलि अपने परिवार की अकेली संतान है. वह अभी आर्किटेक्चर डिप्लोमा की स्टूडेंट है. पिता श्री राजेश त्रिवेदी जी एक सनमाइका प्लाईवुड कंपनी में मार्केटिंग सेल्समेन है. अंजलि के पूरे इलाज के लिए हॉस्पिटल ने 10 लाख रुपये का एस्टीमेट दिया है, कम से कम 2 महीने तक इलाज चलेगा, जिसमे रोजाना घाव की ड्रेसिंग, एंटीबायोटिक्स, दवाइयां, टेस्ट आदि शामिल है.

आर्थिक रूप से कमजोर अंजलि के पिता प्रतिदिन हॉस्पिटल से बाहर पैसों के इंतजाम में निकल जाते हैं.. ताकि वह अपनी बेटी के इलाज को किसी भी हाल में रुकने न दें और उनकी बेटी जल्दी ही अपने पैरों पर खड़ी हो कर वापस अपनी पढ़ाई पूरी कर सके. अपने देखे हुए सपनों को साकार कर सके.

दोस्तों मुझे ऐसा लगता है कि अंजलि को उसके पैरो में खड़ा करना न सिर्फ उसके पिता की जिम्मेदारी है.. बल्कि इस मानव समाज का अंग होने के कारण हम सबकी बराबर की जिम्मेदारी बनती है कि हम सभी उसके बेहतर इलाज में आर्थिक मदद हेतु हर संभव प्रयास करें. मैंने उनके पिता से बात करके ही ये सारी जानकारी पोस्ट के माध्यम से आपको दी है.

अहमदाबद गुजरात के मेरे अभिन्न दोस्त Kamlesh Rayakval जी ने भी अपने दोस्तों के साथ मिलकर इस मुहीम में हरसम्भव मदद करने का वादा किया है. आप सबसे भी यही निवेदन है, थोड़ा ही सही आर्थिक मदद जरूर करें अंजलि की, इस पोस्ट को अपनी प्रोफाइल पर शेयर करे, कॉपी पेस्ट करके अपलोड करें.. अपने दोस्तों को टैग करें.. और अगर आप वहां कही नजदीक से हो तो हॉस्पिटल जा कर इस परिवार से जरूर मिलें… अंजलि को भरपूर प्यार और हौसला दें ..उसे बताएं कि हम सभी उसके साथ हैं उसे जल्दी ही ठीक होना ही होगा …सहयोग हेतु सारी जानकारी नीचे दी जा रही है.

राजेश त्रिवेदी (Rajesh Trivedi) (पिता), Mo. 9687669950
ICICI Bank a/c no. 018901508026 , IFSC code- ICIC0002402
Kirti Square Building, Subhanpura Vadodra Branch
********************************************

Hospital Details-
मरीज- अंजलि त्रिवेदी ,2nd Floor, वार्ड नम्बर-218,
Bhailal Amin Genaral Hospital, Bhailal Amin marg, Gorwa Vododara-3 ,Ph.- 0265-3956222 , 0265-2285555
website- www.baghospital.com, email: contact@baghospital.com
********************************************
और अधिक जानकारी के लिए हमसे संपर्क कर सकते हैं आप ..
रविन्द्र सिंह क्षत्री- सुमित फाउंडेशन “जीवनदीप” , मो. 7415191234
facebook/RavindraSinghKshatriJivandeep

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY