लालू के साथी प्रभुनाथ सिंह को कोर्ट ने माना हत्यारा

हजारीबाग. राष्ट्रीय जनता दल के बड़े नेता प्रभुनाथ सिंह को 22 साल पुराने हत्या के मामले में हजारीबाग कोर्ट ने अपराधी मान लिया है.

चारा घोटाले में सज़ायाफ्ता लालू यादव के इस पुराने समर्थक को अशोक सिंह के उनके पटना आवास पर क़त्ल करने के जुर्म में सजा सुनाई गई. वो गिरफ्तार कर लिए गए हैं.

बिहार के दबंग नेताओं में शुमार प्रभुनाथ सिंह, लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल में हैं. वे बिहार के महराजगंज से सांसद रहे हैं.

अशोक सिंह मशरक के विधायक थे, जिनकी हत्या हो गयी थी और उसका आरोप प्रभुनाथ सिंह पर लगा था.

अशोक सिंह राष्ट्रीय जनता से उस समय विधायक थे. 28 दिसंबर, 1991 को मशरक के जिला परिषद कांप्लेक्स में उन पर गोलियों से ताबड़तोड़ फायरिंग की गयी थी, जिसमें वे तब बिल्डिंग में छिप कर किसी तरह बच गये थे.

इस वारदात के कुछ साल बाद पटना स्थित उनके आवास पर उनकी गोली मार कर हत्या कर दी गयी. इस मामले प्रभुनाथ सिंह सहित अन्य पर आरोप लगा था.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY