लालू के कार्यकर्ताओं का भाजपा दफ्तर पर पथराव, सुशील मोदी बोले- नीतीश भुगतेंगे खामियाजा

पटना. चारा घोटाले में सज़ायाफ्ता और राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के ठिकानों पर मंगलवार को पड़े छापे के बुधवार को उनके कार्यकर्ताओं ने पटना में भाजपा दफ्तर पर पथराव किया.

उल्लेखनीय है कि हाल के दिनों में भाजपा नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने लालू यादव और उनके परिवार पर एक के बाद एक कई घोटालों के आरोप लगाए हैं. लालू के कार्यकर्ताओं के उपद्रव पर सुशील मोदी ने कहा कि पुलिस की मौजूदगी में आरजेडी कार्यकर्ताओं का हंगामा हो रहा है.

हंगामे के दौरान लालू के कार्यकर्ताओं ने वहां मौजूद गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की. इस दौरान भाजपा और लालू के कार्यकर्ताओं में पत्थरबाजी भी हुई. लालू के कई कार्यकर्ता पुलिस से भी भिड़ गए. बताया जा रहा है कि प्रदर्शन के दौरान 100 के करीब कार्यकर्ता मौजूद थे.

गौरतलब है कि आयकर विभाग ने 1000 करोड़ के बेनामी संपत्ति के मामले में मंगलवार को लालू यादव और उनके परिवार और सहयोगियों के 22 ठिकानों पर छापेमारी की थी.

भाजपा नेता सुशील मोदी बेनामी संपत्ति मामले में पिछले कई हफ्ते से लालू के खिलाफ खुलासे करते आ रहे थे. मंगलवार के छापे को लालू की पार्टी ने बदले की कार्यवाई बताया.

इससे पहले मंगलवार को बिहार की राजनीति में हलचल मच गई थी जब लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट किया था कि बीजेपी को नए अलायंस पार्टनर्स मुबारक हों. लालू झुकने और डरने वाला नहीं है. जब तक आख़िरी सांस है फासीवादी ताक़तों के ख़िलाफ़ लड़ता रहूंगा.

इस ट्वीट के कुछ देर बाद ही लालू यादव ने फिर लिखा कि ज़्यादा लार मत टपकाओ, गठबंधन अटूट है. अभी तो समान विचारधारा के और दलों को साथ जोड़ना है. मैं बीजेपी के सरकारी तंत्र और सरकारी सहयोगियों से नहीं डरता. RSS-BJP को लालू के नाम से कंपकंपी छूटती है. इनको पता है कि लालू इनके झूठ, लूट और जुमलों के कारोबार को ध्वस्त कर रहा है तो दबाव बनाओ.

वहीं बिहार भाजपा के नेता मंगल पांडे ने कहा कि लालू के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामलों में कार्रवाई हो रही है. इससे लालू के समर्थक हताश हैं और हताशा में वे पार्टी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं.

इस मामले में बाद में भाजपा नेताओं ने डीजीपी से भेंट कर पूरे मामले की जानकारी दी. भाजपा नेताओं ने इस मामले राजद प्रमुख व उनके मंत्री बेटों तेजस्वी यादव व तेजप्रताप यादव के खिलाफ पुलिस थाने में नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी है.

घटना के बाद गुस्साये भाजपा कार्यकर्ताओं ने सड़क के बीच में बैठकर प्रदर्शन किया. बीजेपी नेताओं का कहना है कि दर्जनों बीजेपी कार्यकर्ता घायल हुए हैं. बीजेपी नेता अरविंद कुमार ने बताया कि वे लोग कार्यालय के अंदर बैठकर काम कर रहे थे, उसी वक्त राजद के गुंडों ने आकर हमला बोल दिया.

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राजद के गुंडों को बीजेपी कार्यालय के पास जाने की क्या जरूरत थी ? उन्होंने कहा कि बीजेपी कार्यालय प्रतिबंधित क्षेत्र में आता है, इसलिए, आज हम धरना भी गर्दनीबाग में दे रहे हैं.

मोदी ने कहा कि बीजेपी के आधा दर्जन कार्यकर्ता घायल हुए हैं, उनका खून बेकार नहीं जायेगा. उन्होंने कहा कि बीजेपी ईट का जवाब पत्थर से देना जानती है. इसलिए नीतीश कुमार यह तय करें कि वह चाहते क्या हैं.

सुशील मोदी ने कहा कि इस तरह की गुंडागर्दी जारी रही तो नीतीश कुमार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा. मोदी ने कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता चूड़ी पहनकर नहीं बैठे हैं, सरकार होश में रहे, नहीं तो बिहार का माहौल खराब हो जायेगा.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY