पेरिस में आतंकी हमला, दो पुलिसकर्मियों की मौत

पेरिस. फ्रांस में रविवार को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले राजधानी पेरिस में एक बार फिर आतंकी हमला हुआ है. गुरुवार देर रात हुए इस हमले में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई, वहीं, दो पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं.

मीडिया के मुताबिक एक और घायल पुलिसकर्मी ने अस्पताल में दम तोड़ दिया है और इस तरह मरने वालों की संख्या दो गई है. फ्रांस के राष्ट्रपति ओलांद के मुताबिक उन्हें यकीन है कि ये एक आतंकी हमला था. इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन ISIS ने ली है.

पेरिस के कैंप्स एलिसी इलाके में हुई गोलीबारी में एक हमलावर को पुलिस ने मार गिराया है. पेरिस पुलिस की प्रवक्ता जॉना प्रीमेवर्ट ने बताया कि हमलावर ने फ्रेंकलिन रोजवेल्ट सबवे स्टेशन के बाहर खड़े पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया.

पुलिस ने यह घटना एक हमलावर द्वारा अंजाम दिए जाने की जानकारी दी है. इस आतंकी घटना के बाद पुलिस ने पूरे इलाके को अपने कब्जे में लेकर सील कर दिया है. वहीं, पर्यटकों को वापस होटल जाने के आदेश दिए गए हैं.

हमला पेरिस के शाँ एलीजे इलाके में शहर की एक मुख्य सड़क पर हुआ. शाँ एलीजे पेरिस की मशहूर जगहों में से एक है और यहां हर वक्त विदेशी सैलानियों का जमावड़ा रहता है.

फ्रांसीसी मीडिया के मुताबिक हमलावर एक कार से उतरा और ऑटोमेटिक बंदूक से पुलिस की बस पर गोलीबारी शुरू कर दी. घटना के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया. हमलावर ने भागने की कोशिश की लेकिन सुरक्षाबलों ने उसका पीछा किया और मुठभेड़ मे मार गिराया.

फ्रांसीसी सरकार के प्रवक्ता पिएरे हेनरी ब्रांडेट ने मीडिया को बताया है कि हमलावर ने सोची समझी साजिश के तहत पुलिसवालों को निशाना बनाया. फ्रांस की मीडिया के मुताबिक आतंकी संगठन ISIS ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

पेरिस प्रशासन का दावा है कि हमलावर की शिनाख्त कर ली गई है. हालांकि सरकार की ओर से उसकी पहचान जारी नहीं की गई है. पेरिस में उसके घर और पड़ोस की तलाशी ली जा रही है. पुलिस ये पता लगा रही है कि क्या हमले में और भी आतंकी शामिल थे. हमले के बाद पूरे फ्रांस में आतंकवाद रोधी अभियान छेड़ दिया गया है.

फ्रांस में साल 2015 से अब तक आतंकी हमलों में 238 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं. इनमें से ज्यादातर हमलों का जिम्मा ISIS ने लिया है. लिहाजा चुनाव में आतंकवाद सबसे बड़े मसलों में से एक है.

फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसुवा ओलांद ने घटना में मारे गए व्यक्ति के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की हैं. उन्होंने कहा कि वह यह मानने को तैयार हैं कि पेरिस में हुई गोलीबारी एक ‘ऐक्ट ऑफ टेररेजम’ था.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY