जाधव को फांसी हुई तो बलूचिस्तान को स्वतंत्र देश के रूप में मान्यता दे भारत : स्वामी

नई दिल्ली. सांसद और भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि यदि पाकिस्तान भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को फांसी पर लटकाता है तो नई दिल्ली को बलूचिस्तान को एक स्वतंत्र देश के रूप में मान्यता दे देनी चाहिए.

पूर्व भारतीय नौसैन्य अधिकारी जाधव को पाकिस्तान में ‘जासूस’ घोषित किए जाने के बाद वहां सैन्य अदालत ने मृत्युदंड की सजा दी है.

उल्लेखनीय है कि कुलभूषण को 3 मार्च 2016 को बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया गया था. उस पर जासूसी करने और RAW का एजेंट होने का इल्जाम लगाया गया था. पाकिस्तानी सेना का दावा है कि कुलभूषण ईरान के रास्ते बलूचिस्तान पहुंचे थे.

गिरफ्तार किए जाने के करीब एक महीने बाद पाक सेना ने जाधव का वीडियो जारी किया. इसमें कथित तौर पर कुलभूषण भारतीय जासूस होने की बात कबूल करते नजर आ रहे हैं.

लेकिन हकीकत यह है कि कबूलनामा जबरन करवाया गया. पाक के पास अभी तक कोई सबूत नहीं मिले हैं, जिससे यह साबित हुआ हो कि वह जासूसी कर रहे थे.

स्वामी ने एक ट्वीट में कहा, ‘यदि पाकिस्तान जाधव को फांसी पर लटकाता है तो भारत को बलूचिस्तान को स्वतंत्र देश के रूप में मान्यता देनी चाहिए.’

स्वामी ने संसद के बाहर संवाददाताओं से कहा कि जाधव के लिए वाणिज्य दूतावास की सेवाओं के बारे में पूछना निरर्थक है.

सांसद ने कहा कि पाकिस्तान ने दावा किया कि जाधव बलूचिस्तान में समस्या पैदा कर रहे हैं जिसके बाद उसने जाधव को निशाना बनाया.

उन्होंने कहा, ‘यदि जाधव को कुछ होता है तो हमें पाकिस्तान को डराना चाहिए.. हम बलूचिस्तान को स्वतंत्र देश समझेंगे और बलूच प्रतिनिधियों को बुलाएंगे और उन्हें निर्वासन में सरकार का गठन करने को कहेंगे.’

इस बीच मामले में एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है. जाधव को गिरफ्तार करवाने वाले पाकिस्तानी लेफ्टिनेंट कर्नल मोहम्मद हबीब जहीर भारत सीमा से सटे नेपाल के लुंबिनी से लापता हो गए हैं.

पाकिस्तान का आरोप है कि हबीब भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ की हिरासत में है. हालांकि भारत की ओर से अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की गई है. लेफ्टिनेंट कर्नल हबीब 2014 में पाकिस्तानी सेना से रिटायर हुए थे, लेकिन उसके बाद भी आईएसआई के लिए काम करते थे.

सैन्य सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी लेफ्टिनेंट कर्नल हबीब के लापता होने और जाधव को फांसी देने के बीच सीधा संबंध है. हालांकि अभी तक पाकिस्तान को हबीब का कोई सुराग नहीं मिला है, लेकिन वह उसके लापता होने के पीछे भारतीय खुफिया एजेंसी का हाथ बता रहा है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY