भारतीय पत्रकारिता का स्तर : सीएम की हजामत बनाकर कैसा लग रहा है!

आपको याद होगा कि ब्रिटेन की राजकुमारी डायना और उनके पुरूष साथी डोडी अल-फ़ाएद की 1997 में एक कार दुर्घटना में मौत हो गई थी.

राजकुमारी डायना, राजकुमार चार्ल्स की पूर्व पत्नी और राजकुमार विलियम और राजकुमार हैरी की मां थीं. मौत के समय डायना सिर्फ़ 36 साल की थीं.

राजकुमारी डायना और डोडी पैरिस में एक कार में सवार थे जब उनकी कार पौंट डे अलमा सुरंग में एक पोल से टकरा गई, जिसके कारण उनकी मौत हो गई थी.

डायना और डोडी पैरिस के रिट्ज़ होटल से निकले ही थे कि जब कुछ पापाराज़ी (यानी स्वतंत्र फ़ोटोग्राफ़र जो बड़ी-बड़ी हस्तियों की तस्वीरें खींचते हैं और फिर अख़बार या मैगज़ीन को बेचते हैं) ने मोटरबाइक से उनकी कार का पीछा करना शुरू कर दिया.

इनसे ही बचने के लिये डायना के कार चालक ने कार की गति बहुत तेज कर दी थी. तेज गति के कारण कार अनियंत्रित हो गयी और पोल से टकरा गयी.

वैसे यह बात मैं इसलिए यहाँ बता रहा हूँ कि ब्रिटेन में पत्रकारिता के लिये वहां की सबसे मशहूर हस्ती के पीछे भी पत्रकार दौड़ पडते थे. जबकि भारत के पत्रकारों का हाल यह है कि यहां खुद खबर को बकायदे लिख कर उनके दफ्तर तक पंहुचाना पड़ता है.

स्वयं को खोजी पत्रकार कहने वाले लोग भी उन्हीं तथ्यों को खोज कर अपना सीना चौड़ा करते हैं जिन्हें आमतौर पर सभी लोग पहले से ही जानते हैं.

आज एक टीवी चैनल का पत्रकार उस नाई को खोजने में सफल हो गया जिसने पिछले दिनों यूपी के सीएम बने योगी जी की हजामत बनाई थी.

उसके मुंह में माइक ठूंस कर यह पूछा जा रहा था कि सीएम की हजामत बनाकर आपको कैसा लग रहा है?

क्या देश के करोड़ों दर्शकों को यह दिखाना बेहद जरूरी था कि सीएम की हजामत बनाकर नाई कैसा महसूस कर रहा है.

अब योगी भी आम आदमी ही हैं तो उनके भी वैसे ही बाल निकलते होंगे जैसे किसी अन्य आम इंसान के. इसमें आखिर खबर का पुट कहां था जिसे लगातार दस मिनट तक दिखाकर लोगों का भेजा फ्राई किया जा रहा था.

वैसे यह तो महज एक बानगी भर है. किसी भी न्यूज चैनल को लगातार कुछ घंटे देखिये तो खुद के पागल होने का अहसास होने लगता है.

सुबह बाबा लोगों की भविष्यवाणी से लेकर दोपहर के सास बहू वाले एपिसोड तक खबरों के नाम पर दिखा दिये जाते हैं.

अरे कभी तो स्टूडियो से बाहर निकलो और दिखाओ अपनी खोजी पत्रकारिता का कमाल. लेकिन कम से कम ऐसा कोई कमाल मत दिखाने लगो कि लोग देखकर अपना माथा पीटने लगें.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY