ये वैध-अवैध क्या है, सभी बूचड़खाने किए जाएं बंद : आज़म

नई दिल्ली. कभी समाजवादी पार्टी के कद्दावर माने जाने वाले आज़म खान ने उत्तर प्रदेश मे अवैध बूचड़खानों पर योगी सरकार की कार्रवाई पर कहा है कि यह वैध, अवैध की चीजें बंद होनी चाहिए. सभी बूचड़खाने बंद होने चाहिए. किसी भी जानवर को नहीं काटा जाना चाहिए.

अपनी बात के समर्थन में आज़म खान ने जैन समुदाय का हवाला भी दिया जो चिकन और बकरे के काटे जाने की भी मनाही करता है. सपा नेता मुस्लिमों को मीट न खाने की सलाह भी दी है. खान ने कहा, ‘इस्लाम में मीट खाना अनिवार्य नहीं किया गया है. उलेमाओं को लोगों से अपील करनी चाहिए कि वे मीट न खाएं.’

राज्य में वैध बूचड़खानों के चलने की अनुमति दिए जाने पर उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए खान ने कहा, ‘इसका मतलब यह है कि यदि जानवर वैध कसाईखानों में काटे जाते हैं तो यह ठीक है लेकिन यही जानवर यदि अवैध बूचड़खानों में काटे जाते हैं तो यह गलत है.’

गौरतलब है कि अवैध बूचड़खानों पर लगी रोक के खिलाफ यूपी के मीट कारोबारी अनिश्चित हड़ताल पर चले गए हैं. जबकि राज्य सरकार का कहना है कि वह केवल अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई कर रही है.

देश में कानूनों में समानता पर जोर देते हुए खान ने कहा, ‘देश भर में गायों के काटे जाने पर प्रतिबंध होना चाहिए. ऐसा क्यों है कि यह केरल और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में कानूनी है और अन्य राज्यों में गैर-कानूनी है.’

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY