भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में आतंकी धमाका, 9 यात्री जख्मी

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से 120 किमी दूर कालापीपल में जबड़ी स्टेशन के पास भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन 59320 में आईईडी ब्लास्ट हुआ. यह ट्रेन भोपाल से उज्जैन जा रही थी. धमाका सुबह 9:30 बजे के करीब जनरल बोगी में हुआ. इसमें 9 लोग घायल हुए हैं.

ब्लास्ट से ट्रेन के जनरल कोच में छेद हो गया. एमपी के आईजी लॉ एंड ऑर्डर मकरंद देवस्कर ने पुष्टि की कि भोपाल-उज्जैन पैसेंजर ट्रेन में हुआ ब्लास्ट आतंकी हमला ही था. यह आईईडी ब्लास्ट था. इस बीच, हमले के कुछ ही घंटों बाद पिपरिया पुलिस ने एक बस को टोल नाके पर रोककर तीन संदिग्धों को अरेस्ट कर लिया.

धमाके से जनरल कोच की खिड़कियों के कांच टूट गये और कोच में धुंआ फैल गया. धुंए के कारण रेल यात्रियों में हड़बड़ी मच गयी और सभी तेजी से कोच से बाहर निकल गए.

प्रारंभिक जानकारी में जो बात सामने आई है, उसमें पता चला है कि डिब्बे में गन पाउडर की गंध आ रही है. उज्जैन का क्षेत्र पूर्व में स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) का गढ़ रहा है, लिहाजा धमाके में सिमी का हाथ होने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस घटना में 25 से 45 यात्रियों के घायल होने की खबर है, जिन्हें कालापीपल के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना की जानकारी मिलते ही शुजालपुर से बचावकर्मियों की टीम पहुंची. फिलहाल ट्रेन के दो डिब्बे अलग कर उन्हें रवाना कर दिया गया है.

मीडिया की खबरों के मुताबिक, जब ट्रेन में सीहोर स्ट्रेशन क्रॉस होने के बाद कालापीपल से पहले जबड़ी स्टेशन पर पहुंची तो पिछले डिब्बे में धमाके के साथ आ लग गई. चश्मदीदों के मुताबिक- लोग जान बचाने के लिए ट्रेन से कूद गए, लेकिन जो फंस गए, वो जख्मी हो गए.

दिल्ली रेलवे के पीआरओ अनिल सक्सेना ने बताया कि मामले की जांच कर जा रही है कि यह हादसा किन कारणों से हुआ. आरपीएफ और फॉरेंसिक एक्सपर्ट घटनास्थल पर पहुंच सकते हैं.

उन्होंने बताया कि इस धमाके से कुछ रेल यात्री घायल हुए हैं. उन्होंने बताया कि विस्फोट में घायल सात लोगों को कालापीपल के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जयंत ने बताया कि उज्जैन से पश्चिमी रेलवे का मेडिकल राहत वाहन मौके पर पहुंच गया है. भोपाल से दुर्घटना राहत वाहन भी घटनास्थल की ओर रवाना किया गया है.

उन्होंने बताया कि ट्रेन में धमाके की वजह का फिलहाल पता नहीं चल सका है. धमाके से जनरल कोच की खिड़कियों के कांच टूट गये और कोच में धुंआ फैल गया. धुंए के कारण रेल यात्रियों में हड़बड़ी मच गयी और सभी तेजी से कोच से बाहर निकल गये. उन्होंने बताया कि जांच के बाद ही धमाके के कारणों के बारे में पता चल सकेगा. एक राहत ट्रेन घटनास्थल की ओर रवाना कर दी गयी है.

मध्यप्रदेश सरकार ने घायलों के लिए 25 हजार और गंभीर रूप से घायल यात्रियों के लिए 50 हजार रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि एसपी कलेक्टर घटनास्थल पर पहुंच चुके है. उन्होंने कहा कि डीजी की देखरेख में एटीएस और फॉरेंसिक की टीमें मामले की जांच में जुटी हैं.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY