स्पिन में उलझे, स्पिन के माहिर! तीसरे दिन ही टेस्ट मैच हारी टीम इंडिया!

पुणे. कभी स्पिन गेंदबाजी खेलने में माहिर माने जाने वाली टीम इंडिया ऑस्ट्रेलियन के स्पिनरों के जाल में ऎसी उलझी कि टेस्ट मैच के तीसरे दिन ही घुटने टेक कर चार मैचों की श्रृंखला में 0-1 से पीछे हो गई.

टीम इंडिया की बेहद मज़बूत समझी जाने वाली बैटिंग लाइनअप की पोल तो पहली ही पारी में खुल गई थी जब पूरी टीम महज़ 105 रन पर ही ढेर हो गई थी. उम्मीद की जा रही थी कि दूसरी पारी में टीम इंडिया अपनी ख्याति के अनुरूप बैटिंग कर मैच ड्रा करा ले जाएगी.

लेकिन ऑस्ट्रेलिया के स्टीव ओकीफी और नाथन लियोन की फिरकी के जादू से आस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में भी टीम इंडिया को सिर्फ 107 रन पर समेटकर तीसरे ही दिन पहला क्रिकेट टेस्ट 333 रन से जीतकर चार मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बना ली.

स्टीव ओकीफी ने दोनों पारियों में छः – छः विकेट लिए. यह उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था. आस्ट्रेलिया ने इसके साथ ही टीम इंडिया के लगातार 19 मैचों के अजेय अभियान को भी थाम दिया और साथ ही 20 टेस्ट बाद मेजबान टीम को उसके मैदान पर हार का स्वाद चखाया.

पहली पारी में 35 रन देकर छह विकेट चटकाने वाले बायें हाथ के स्पिनर ओकीफी ने दूसरी पारी में भी 35 रन देकर छह विकेट चटकाए जबकि आफ स्पिनर लियोन ने 53 रन देकर चार विकेट हासिल किए जिससे टीम इंडिया 441 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सिर्फ 33.5 ओवर में 107 रन पर पवेलियन लौट गई.

विराट कोहली की अगुआई में टीम इंडिया को अपनी सरजमीं पर पहली बार शिकस्त का सामना करना पड़ा है.

ओकीफी ने मैच में 70 रन देकर 12 विकेट चटकाए जो किसी आस्ट्रेलियाई गेंदबाज का भारतीय सरजमीं पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है. इससे पहले एलेन डेविडसन ने दिसंबर 1959 में कानपुर में भारत के खिलाफ मैच में 124 रन देकर 12 विकेट हासिल किए थे.

टीम इंडिया की अपनी सरजमीं पर दिसंबर 2012 और 20 टेस्ट के बाद यह पहली हार है. तब उसे इंग्लैंड के खिलाफ कोलकाता में सात विकेट से शिकस्त का सामना करना पड़ा था. दूसरा टेस्ट चार मार्च से बेंगलुरू में खेल जाएगा.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY