वीडियो : PM ने याद दिलाया, ‘माया-मुलायम ने कहा था- नोटबंदी से पहले 7-8 दिन का मौका तो देते’

PM Narendra Modi addressing Vijay Shankhnad Rally in Gonda, Uttar Pradesh
PM Narendra Modi addressing Vijay Shankhnad Rally in Gonda, Uttar Pradesh

गोंडा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के गोंडा में ‘विजय शंखनाद’ रैली को संबोधित करते हुए मुख्य प्रतिद्वंदी बसपा और कांग्रेस से गठबंधन कर चुनावी दौड़ से लगभग बाहर हो चुकी सपा पर जमकर हमला किया.

रैली में संबोधन की शुरूआत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में भाजपा की आंधी चल रही है, दिल्ली में बैठे विश्लेषकों को इसका अंदाजा नहीं है. इस बार प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मायावती और मुलायम सिंह यादव ने तो संसद में कह दिया था कि नोटबंदी से पहले 7-8 दिन का मौका तो देते. जिन-जिन को परेशानी हुई, लूट का पैसा गया है, एक साथ खड़े हो गए हैं.

उन्होंने कहा, पिछले 15 साल से एसपी-बीएसपी की उलटबांसी देखने को मिल रही है. 15 साल में एक बार केवल नोटबंदी का मसला आया तब एक बात कहने लगे कि मोदी गलत है.

पीएम मोदी ने नोटबंदी के बाद विपक्षी पार्टियों पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया. पीएम ने कहा, नोटबंदी के बाद बहुत बड़ी ताकत देश को भ्रमित करने में जुटी है. उनको देश की चिंता, आर्थिक स्थिति की चिंता कम है उनकी परेशानी यह है कि वे बड़े-बड़े लोग होने के बाद भी बच नहीं पाए.

पीएम मोदी ने कहा कि मैं देश को लूटने वालों को छोड़ने वाला नहीं हूं, 70 साल की लूट को गरीबों को लौटाना चाहता हूं.

उन्होंने कहा, ‘मैं देशवासियों को सिर झुका कर नमन करता हूं कि देश की जनता ने ईमानदारी का साथ दिया है. अभी ओडिशा में चुनाव हुआ. वहां इतनी गरीबी है कि हिंदुस्तान के सबसे गरीब जिले वहीं मिलते हैं. अशिक्षा, गरीबी और बेरोजगारी की चर्चा होती है तो लोग ओडिशा का नाम लेते हैं. वह प्रदेश जहां बीजेपी को झंडा रखने की जगह नहीं मिलती थी लेकिन अभी चुनाव हुआ तो ओडिशा से गरीब लोगों का ऐसा जनसमर्थन मिला कि दूसरे चिंता में पड़ गए.

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश के लोग चाहे वह पढ़े लिखे हो या ना हो, स्कूल का दरवाजा देखा हो या ना देखा, घर में कभी अखबार आया हो या ना आया हो लेकिन भगवान शिव की तरह हिंदुस्तान के लोगों में एक तीसरा नेत्र होता है और तीसरे नेत्र से वह देख लेते हैं कि कौन सही है और कौन गलत ?

पीएम मोदी ने महाराष्ट्र निकाय चुनाव में भाजपा की सफलता का जिक्र करते हुए रैली में कहा कि महाराष्ट्र निकाय चुनाव में कांग्रेस का सफाया हो गया. ओडिशा में अभी चुनाव हुआ, वहां भाजपा को इतना जनसमर्थन मिला कि देश के बाकी दल चौंक गए, पिछले तीन महीनों में जहां भी चुनाव हुए, हम जीते लेकिन अब भारी जनसमर्थन से हमारी जिम्मेदारी बढ़ गई है. उन्होंने कहा कि इस समर्थन से हमें नशा नहीं होता, बल्कि प्रेरणा मिलती है.

उन्होंने आगे कहा कि गोंडा में परीक्षा में नकल के लिए परीक्षा केंद्र लगाने के लिए बोली लगाई जाती है, चोरी के लिए टेंडर दिए जाते हैं. मुझे डर लग रहा था कि कहीं मेरे बोलने से समाजवादी पार्टी के बेईमानी के इस कारोबार को दूसरे लोग न सीख लें.

यादव परिवार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि अखिलेश का तो कुनबा काफी बढ़ चुका है, आप ऑस्ट्रेलिया जाकर पढ़ने चले जाते हैं लेकिन गोंडा के बच्चों का क्या होगा?

गोंडा में परीक्षा केंद्रों पर नकल पर पीएम मोदी ने अखिलेश पर साधा निशाना. उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ जो अपराध जुड़ गया है वह आने वाली पीढ़ी को बर्बाद करके रख देगा, अखिलेश सरकार ने इसे नहीं रोका, हमें इस अपराध को बंद करना है.

पीएम मोदी ने गन्ना किसानों की बात करते हुए कहा कि गन्ना धूप में सूख जाता है और इससे उसका वजन भी घट जाता है. अखिलेश सरकार में तोल में भी बेइमानी की जाती है. हम खेत से मिल तक गन्ने की तोल में पारदर्शिता लाएंगे. गन्ना किसानों के साथ हो रहे अन्याय को रोकेंगे. मैं गन्ना किसानों के लिए एक टास्क फोर्स बनाकर, उसे तौलने का आधुनिक विकल्प बनाऊंगा, जिससे धोखेबाजी न हो.

उन्होंने कहा कि हम ऐसी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लाए हैं, जिसमें किसान अगर बुआई नहीं कर पाया तो भी उसे पैसा मिलेगा. पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में सरकार बनने पर छोटे किसानों का कर्ज माफ होगा. अखिलेश जी की किसानों से क्या दुश्मनी है कि अब तक 14% किसानों का ही बीमा कराया गया है. बीजेपी शासित राज्यों में 50 प्रतिशत किसानों का बीमा हुआ.

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे जवानों ने सीमा पार जाकर सर्जिकल स्ट्राइक की लेकिन राजनीति करने वालों को देश के जवानों का पराक्रम नजर नहीं आता, वे सबूत मांगते हैं, सर्जिकल स्ट्राइक पर जो सवाल पाकिस्तान ने नहीं उठाया, वो सवाल हमारे देश के कुछ राजनीतिक लोगों ने उठाया.

कानून व्यवस्था पर कटाक्ष करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में जमीन-घर कब्जा होने पर थानों में सुनवाई नहीं होती, यूपी में थाना समाजवादी पार्टी की दादागिरी के लिए है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY