Sri M -3 : स्वातंत्र्य, वेदांती शिक्षाओं की आत्मा है

Sri M को जब उनके गुरु बाबाजी ने उपनिषद की शिक्षा देना प्रारम्भ किया तो उनके मन में भी वही सवाल था जो हम सबके मन में हैं- “बाबाजी, उपनिषद क्या बहुत कठिन नहीं है? क्या वे केवल सन्यासियों और प्रकाण्ड पंडितों के लिए नहीं है?” (श्री एम को जो लोग अभी अभी जान पाए … Continue reading Sri M -3 : स्वातंत्र्य, वेदांती शिक्षाओं की आत्मा है