भारतीय चन्द्रयान-2 में अगले साल जाने वाली स्वचलित चन्द्र-गाड़ी

एक झटके में एक सौ चार सेटेलाईट अन्तरिक्ष की कक्षाओं में स्थापित करने के बाद भारत की अगली सफलता का समाचार अगले वर्ष मार्च के पहले सप्ताह में मिलने जा रहा है.

अब चन्द्रयान -2 को चन्द्रमा पर भेजने की तैयारियां पूरे जोर शोर से चल रही हैं. इसके लिए भारत ने रूस की जे एस सी कम्पनी को ठेका देकर क्यूरियम 244 नामक रेडियोधर्मी पदार्थ खरीदने की व्यवस्था कर ली है.

इस रेडियोधर्मी पदार्थ की मदद से चन्द्रयान-2 की प्रयोगशाला द्वारा चन्द्रमा की चट्टानों और मिट्टी की जांच कर सकेगी. चन्द्रमा की पहली भारतीय गाड़ी को 100 किलोमीटर ऊपर चक्कर काटने वाले ओरबीटल से चन्द्रमा की सतह पर उतारा जाएगा.

इससे यह अब पूरी तरह से सिद्ध होने लगा है कि भारत अब जल्दी ही अगले दस सालों के भीतर चन्द्रमा पर तिरंगा लहराने के लिए चीन से पहले हमारे भारतीय अन्तरिक्ष यात्रियों को चन्द्रमा पर भेज सकेगा.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY