वोटिंग से पहले : हाई वे रेप याद करना, कैराना-अलीगढ़ याद करना, सहारनपुर-शामली याद करना

0
11

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग शुरू हो चुकी है. कई लोग सुबह-सवेरे वोट डाल चुके होंगे. कई वोटिंग के लिए निकल रहे होंगे और कई ये सोच कर रुके होंगे कि अभी दिन भर पड़ा हुआ है.

मैं उत्तर प्रदेश के उन मित्रों से जो विधानसभा सभा चुनाव में वोट डालने की पात्रता रखते हैं… उनसे आग्रह करना चाहता हूँ कि वे अपना बहुमूल्य वोट डालने के पहले अपनी याददाश्त को ताजा कर लें.

विगत पाँच वर्षों में घटित हुई प्रमुख घटनाओं को आप अवश्य याद करना जो इस प्रकार हैं…

कैराना और अलीगढ़ को याद करना… मथुरा का जवाहरबाग़ याद करना… बदायूं, मोहनलालगंज और बुलंदशहर का हाई वे रेप को याद करना… लोक सेवा आयोग का अध्यक्ष अनिल यादव को याद करना.

भू-माफियाओं को याद करना… सरकारी भर्ती में धांधली को याद करना… नक़ल करने की आज़ादी से घटिया हुई शिक्षा व्यवस्था को याद करना…

यूपी की बेरोजगारी को याद करना… रामपुर, मुरादाबाद, बरेली, मेरठ, मथुरा, सहारनपुर, शामली आदि जगह हुए हिन्दुओं पर अत्याचार को याद करना.

4 वर्षों में 500 से अधिक दंगे याद करना… बिजली का मुद्दा याद करना… किसानों को याद करना…

सैफई की आलीशान पार्टी और बॉलीवुड के ठुमके याद करना… नेताजी का करोड़ों का जन्मदिन याद करना… कला और साहित्य के पुरस्कार के बहाने वोट बैंक मजबूत बनाने के प्रयास को याद करना.

अधूरी मेट्रो, अधूरा स्टेडियम याद करना… यादव सिंह की धांधलेबाजी को याद करना…. आज़म खान के बेतुके और हिन्दू विरोधी व भारत विरोधी बयानों को याद करना…

सेना के शहीद सैनिकों को 5 लाख और अकेले अखलाक को 1 करोड़ रुपये को याद करना.

यूपी का रेप में नंबर एक होना याद करना… यूपी का हत्याओं में नंबर एक होना याद करना…. यूपी में पत्रकारों की हत्या को याद करना.

इसके बाद आप अपना बहुमूल्य वोट देना… किसको देना है ये आप का अपना व्यक्तिगत निर्णय है, पर मेरा निवेदन है कि राष्ट्रवादी पार्टी को ही देना.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY