कांग्रेस के उन्नीस शर्मनाक बयान

0
71
mode comments by congress making india

कांग्रेस ने मोदी के लिए जिन असभ्य और अश्लील शब्दों का प्रयोग पिछले कुछ वर्षों में किया है, उसकी मिसाल पूरे इतिहास में नहीं मिलेगी :-

1. तत्कालीन कांग्रेसी क़ानून मंत्री सलमान खुर्शीद ने नरेन्द्र मोदी को “नपुंसक” बताया था ( 25 फरवरी 2014)

2. कांग्रेसी मणिशंकर अय्यर ने मोदी को “लहु पुरुष (ब्लड मैन) की संज्ञा दी थी (नवम्बर 2012)

3. इन्हीं अय्यर साहब ने मोदी को “रावण” कह डाला था (नवम्बर 2012)

4. कांग्रेस के हुसैन दलवी ने मोदी को “चूहा” कहा था (नवम्बर 2012)

5. कांग्रेसी नेता राशीद अल्वी ने मोदी को “यमराज” कह डाला था (अप्रैल 2014)

6. कांग्रेसी मणिशंकर अय्यर ने मोदी को “सांप”, “बिच्छू”, और “गंदा आदमी” की उपाधि दी थी (3 मार्च 2013)

7. कांग्रेसी बी. हरिप्रसाद ने मोदी को “गंदी नाली का कीड़ा” बताया था (2009)

8. कांग्रेसी मंत्री मनीष तेवारी ने मोदी की तुलना “आतंकवादी दाउद इब्राहीम” से की थी (मार्च 2012)

9. कांग्रेसी रिजवान उस्मानी ने मोदी को “बदतमीज़ और नालायक” कहा था (2009)

10. कांग्रेसी शांताराम नाइक ने मोदी की तुलना “पोल पॉट” से की थी (7 जून 2013)

11. कांग्रेसी सलमान खुर्शीद ने मोदी की तुलना “बन्दर” से की थी (8 जून 2013)

12. कांग्रेसी मंत्री बेनी प्रसाद ने मोदी को “पागल कुत्ता” बताया था (14 जुलाई 2013)

13. कांग्रेसी मंत्री सलमान खुर्शीद ने मोदी को “मेढ़क” की संज्ञा दी थी (16 अगस्त 2013)

14. कांग्रेसी मंत्री गुलाम नबी आज़ाद ने मोदी को “गंगू तेली” कहा था (17 अगस्त 2013)

15. कांग्रेसी मंत्री बेनी प्रसाद ने मोदी को “आदमखोर” बताया था (11 जनवरी 2014)

16. गुजरात-कांग्रेस-अध्यक्ष मोधवाडिया ने मोदी को “मानसिक-मंद (mentally retarded)” बताया (2 फर 2014)

17. कांग्रेसी मंत्री शशि थरूर ने मोदी को “खून बहाने वाला” कहा था (21 अप्रील 2014)

18. कांग्रेसी मंत्री बेनी प्रसाद ने नरेन्द्र मोदी को “कोड़े से काबू में रखा जाने लायक जानवर” कहा था

19. कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने नरेन्द्र मोदी को “मौत का सौदागर” कहा था (2007)

आज यही कांग्रेस देश को भाषा की शालीनता का पाठ पढ़ा रही है. आश्चर्य! सत्तर सालों की सत्ता के नशे, वर्तमान में सत्ता-विहीनता की बौखलाहट, और चाटुकारिता में डूबी कांग्रेस ये समझ ही नहीं पा रही कि अधिकाँश जनता इस पार्टी को अब एक मज़ाक से अधिक कुछ नहीं समझती. तख़्त पर बैठने की गहरी आदत में डूबी कांग्रेस अब तख्ता पर बैठने के कष्ट को झेल ही नहीं पा रही!

(ये सारे बयान मीडिया में लिखत या वीडियो के रूप में मौजूद हैं)

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY