पाकिस्तान-अफगानिस्तान में हिमस्खलन ने ली 100 से ज़्यादा जान, अलर्ट पर भारत

काबुल/ पेशावर. पिछले तीन दिनों से अफगानिस्तान में हो रही भारी बर्फबारी के चलते हुए हिमस्खलन 100 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा पाकिस्तान में 14 लोगों के मारे जाने की खबर है. साथ ही भारत में जम्मू-कश्मीर और हिमाचल के कुछ हिस्सों में भी हिमस्खलन की चेतावनी जारी की गई है.

अफगानिस्तान के आपदा प्रबंधन और मानवीय मामलों के मंत्री के प्रवक्ता उमर मोहम्मदी ने बताया कि देश के 34 में से 22 प्रांतों में बर्फबारी हुई है. इसके चलते हुए हिमस्खलनों से ढेर सारे घर तबाह हो गए और सड़कें बंद हो गई हैं.

अफगानिस्तान में अंदेशा जताया जा रहा है कि मृतकों की संख्या में अभी इजाफा होगा. नूरिस्तान प्रांत के एक गांव में ही 50 लोग मारे गए हैं. मोहम्मदी ने बताया कि 168 घर तबाह हो गए और 340 मवेशी मारे गए.

इस बीच, परवान प्रांत के प्रांतीय गवर्नर मोहम्मद असीम ने बताया कि प्रांत के दो जिलों में हिमस्खलनों से 16 लोगों की मौत हो गई, जबकि आठ अन्य घायल हैं.

असीम ने बताया कि बचाव दल प्रभावित इलाकों में भेजे गए हैं, लेकिन बर्फबारी से ढेर सारी सड़कें बंद हैं. भारी बर्फबारी के मद्देनजर सरकार ने रविवार को सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया.

वहीं, पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के चित्राल जिले के दूरदराज के इलाके में भारी हिमपात के बाद हिमस्खलन की घटना में पांच मकानों के दब जाने से कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई.

चित्राल स्काउट कमांडेंट कर्नल निजामुद्दीन शाह ने बताया कि बर्फ के मलबे में दबे 14 शवों को निकाल लिया गया है, जिनमें छह महिलाएं, छह बच्चे और दो पुरुष शामिल हैं.

पाकिस्तानी अखबार ‘डॉन’ ने चित्राल जिले के नाजिम मगफिरात के हवाले से खबर दी है कि इस क्षेत्र में पिछले दो दिनों से भारी बर्फबारी के कारण अनेक परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है.

बर्फ और हिमस्खलन अध्ययन केंद्र (एसएएसई) की एडवायज़री के मुताबिक़ जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा, बांदीपुरा, अनंतनाग, बारामूला, गांदरबल, कुलगाम, बडगाम, पुंछ, किश्तवाड़ और कारगिल जिलों में हिमस्खलन संभावित ढलानों के लिए मध्यम स्तर की चेतावनी जारी की गई है.

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में जम्मू-कश्मीर में 20 भारतीय सैनिक हिमस्खलन की वजह से शहीद हो गए. इनमें मेजर और जेसीओ भी शामिल हैं.

इसके साथ ही मध्य स्तर की चेतावनी हिमाचल प्रदेश के कुल्लू, चांबा, लाहौल-स्पीति, मंडी, कांगड़ा, सिरमौर, शिमला और किन्नौर जिलों के लिए भी जारी की गई है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY