यूपी चुनाव में मतदान से पहले नज़र ज़रूर डालियेगा इन आपराधिक आंकड़ों पर

0
11
up election rahul akhilesh

उत्तर प्रदेश में लगभग 34 साल कांग्रेस ने और लगभग 15 साल समाजवादी पार्टी ने सरकार चलाई, यानि गणतंत्र-उपरान्त कुल अवधि के लगभग 80 प्रतिशत समय में इन दोनों पार्टियों के हाथों में राज्य की बागडोर रही.

अब अगर इस राज्य में अपराधों के आंकड़े देखें तो सिहर उठेंगे आप. ‘नेशनल क्राइम रिकार्ड्स ब्यूरो’ के अनुसार अकेले वर्ष 2015 में ही उत्तर प्रदेश में लगभग 28 लाख अपराध ‘आईपीसी’ और ‘एसएलएल’ के तहत दर्ज किये गए जो प्रति एक लाख की आबादी पर 1293 अपराधों की उच्चतम दर से देश में सबसे अधिक हैं.

मतलब ‘कांग्रेस’ ने चौंतीस सालों में अपराध की ज़मीन तैयार की और पंद्रह सालों में ‘समाजवादी’ ने अपराध की फसल उगा दी.

और अब इस चुनाव में दोनों ‘भाइयों’ ने हाथ मिला लिया है; अगर जीत गए तो अंजाम-ए-गुलिस्तां क्या होगा?

वैसे तो ये बहुत बड़ा ‘अगर’ है, लेकिन फिर भी मतदान के पहले इन आंकड़ों को भूलियेगा मत.

अपराधमुक्त समाज विकास की पहली शर्त होती है, और आपका अधिकार भी!

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY