संघ प्रचारक जोशी हत्याकांड से साध्वी प्रज्ञा बरी

देवास. देवास कोर्ट में एडीजे राजीव एम आप्टे ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रचारक सुनील जोशी की हत्या मामले में बुधवार को साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर सहित सभी 8 आरोपियों को बरी कर दिया.

न्यायाधीश राजीव आप्टे ने प्रज्ञा, हर्ष सोलंकी, वासुदेव परमार, रामचरण पटेल, आनंदराज कटारिया, लोकेश शर्मा, राजेंद्र चौधरी और जितेंद्र शर्मा को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया.

9 दिसंबर 2007 को हुई संघ प्रचारक सुनील जोशी की हत्या के मामले में औद्योगिक थाना पुलिस ने केस दर्ज किया था. हालांकि बाद में मामले का खात्मा काट कर बंद कर दिया गया था.

चार्टशीट फाइल होने के बाद केस एनआईए की विशेष कोर्ट भोपाल ट्रांसफर किया गया था, लेकिन बाद में भोपाल कोर्ट ने इसे एक साधारण हत्या का केस बताकर वापस देवास ट्रांसफर कर दिया था.

शुरुआत में मामला सही रफ्तार नहीं पकड़ पाया था, लेकिन राजस्थान से एक व्यक्ति की गिरफ्तारी के बाद इसमें प्रज्ञा और अन्य का नाम सामने आया था.

इसी मामले में कोर्ट ने बुधवार को साध्वी प्रज्ञा, रामचरण पटेल, वासुदेव परमार, आनंद राज कटारिया, जीतेन्द्र शर्मा, लोकेश शर्मा, राजेंद्र चौधरी और हर्षद सोलंकी को सभी धाराओं में बरी कर दिया.

प्रज्ञा फिलहाल आतंकी घटना के मामले में न्यायिक हिरासत में हैं. सुनवाई के दौरान प्रज्ञा कोर्ट में नहीं थी.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY