केरल में फिर मारा गया संघ कार्यकर्ता, कम्युनिस्टों पर हत्या का आरोप

नई दिल्ली. केरल के कन्नूर में तालासेरी के पास राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक और स्वयंसेवक संतोष कुमार की हत्या कर दी गई. इस हत्या के पीछे भी मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी का हाथ होने का आरोप है.

संतोष भाजपा कार्यकर्ता भी थे और उन्होंने पिछला स्थानीय निकाय चुनाव भी लड़ा था. हमले का विरोध करने के लिए भाजपा ने गुरुवार को कन्नूर में हड़ताल का आह्वान किया, जिसके चलते यहाँ के बाज़ार बंद रहे और सड़कों पर व्वाहन भी नहीं चले.

बताया जाता है बुधवार रात करीब 10.30 बजे मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (CPM)के कुछ कार्यकर्ता भाजपा कार्यकर्ता संतोष कुमार के घर में घुस गए और उन्होंने उनके पैर काट डाले.

घटना के वक्त संतोष घर में अकेले थे और उन्होंने अपने दोस्त को फोन कर इस घटना की जानकारी दी. संतोष कुमार को तत्काल अस्पताल ले जाया गया. लेकिन बहुत ज्यादा खून बह जाने की वजह से उन्हें बचाया नहीं जा सका.

भाजपा की जिला यूनिट ने इसके बाद गुरुवार को शहर में हड़ताल की घोषणा कर दी. भाजपा ने इस हादसे में राज्य के सीएम से सफाई मांगी है. घटना सीएम की विधानसभा सीट के नजदीक हुई है.

कन्नूर के पुलिस अधीक्षक के पी फिलिप ने बताया कि संतोष की अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में ही मौत हो गई. उन्होंने बताया कि इलाके में तनाव की स्थिति बनी हुई है.

कन्नूर में 57वां राज्य स्कूल कला उत्सव आयोजित किया जा रहा है. लेकिन घटना के बाद से यहां सभी दुकानें बंद हैं और वाहन भी सड़कों से नदारद है.

संतोष के घऱ में उनकी मां, पत्नी और दो बच्चे हैं. बताया जाता है कि संतोष आरएसएस के स्वंयसेवक भी थे और वह एक शाखा के मुख्य शिक्षक रह चुके थे.

इसके अलावा एक अन्य घटना में थालीपरंबा स्थित आरएसएस के कार्यालय पर एक देसी बम फेंका गया. घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है. पिछले साल कन्नुर में कम से कम छह पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY