फ़ौज में फूट डालकर, मुस्कुरा रहे ‘वे’ लोग

0
85
indian-army-ma jivan shaifaly making india

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद देश में एक तरह की अग्नि प्रज्जवलित हुई थी देश भक्ति की… जैसे यज्ञ के हवन कुण्ड से निकलती है… हवन सामग्री की खुशबू चहुँ ओर फ़ैल रही थी… दूर देश के बाहर तक…

फेसबुक पर अचानक से We Love Indian Army, I suport Indian Army जैसे नामों के ग्रुप्स की बहार आ गयी… सेना के समर्पण और बहादुरी के किस्से और फोटो शेयर होने लगे ….

सेना के परिवार वालों का टीवी में इंटरव्यू होने लगा था… पुराने किस्से खोजे जाने लगे… उनका प्रसारण किया जाने लगा….

ऐसे में किसको भय लगेगा जानते हैं? उनको जो जानते हैं देश की सबसे बड़ी ताकत होती है उस देश की सेना और प्रजा… जब प्रजा और सेना एक हो जाएगी तो देश विरोधी ताकतों की नींव कमज़ोर हो जाएगी…

फिर ऐसा क्या किया जाए… प्रजा और सेना के बीच कैसे फूट डाली जाए… सबसे कमज़ोर नब्ज़ भारतवासियों की जो लोग जानते हैं वो आखिर में यही कदम उठाते हैं… फूट डालो राज करो…

फिर एक वीडियो वायरल किया जाता है…. याद रखियेगा… हम भावनात्मक लोग हैं… वो जानते हैं इसलिए हमारी भावनाओं से वे खेलते आये हैं… और हम हर बार उनके हाथ का खिलौना बन जाते हैं….

एक वीडियो ने पूरी प्रजा को दो गुट में बाँट दिया… उनका मकसद पूरा हुआ… फिर दो और वीडियो आये… तब तक मामला गृहमंत्रालय ने संभाल लिया था..

सोशल मीडिया पर जासूसी कुत्ते छोड़े गए हैं… सूंघ सूंघ कर मुद्दे निकाले जा रहे हैं…. अपनी कमजोरियों से ऊपर नहीं उठ सकते तो कम से कम ऐसे समय में एक दूसरे का हाथ थाम कर रखिये… ज़रा सा हाथ ढीला हुआ नहीं कि कुत्ते झपट पड़ेंगे….

मिलकर ही इनका मुकाबला किया जा सकता है… और कोई चारा नहीं… कुछ गलत लग भी रहा है तो उसे घर आकर निपटिये… बीच सड़क पर एक दूसरे पर इलज़ाम मत लगाइए… याद रखिये आपकी इस लड़ाई को कोई मुस्कुराते हुए देख रहा है और अपनी कामयाबी पर खुश हो रहा है…

हवनकुण्ड की अग्नि को प्रज्जवलित रखिये… वो हाथ में पानी लिए खड़े हैं… कहीं आपकी आहुतियों से पहले उन्होंने पानी डाल दिया तो आप स्वाहा बोलने से पहले ही खुद स्वाहा हो जायेंगे…

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY