सीरिया में टैंकर बम विस्फोट में 48 की मौत, ISIS पर शक़

बेरूत. सीरिया में तुर्की की सीमा के निकट विद्रोहियों के कब्जे वाले अज़ाज़ शहर में शनिवार को हुए भीषण टैंकर ट्रक बम विस्फोट में कम से कम 48 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए.

उत्तरी अलेप्पो प्रांत के इस शहर में यह सबसे भीषण हमला है. विस्फोट की यह घटना एक इस्लामी अदालत के सामने स्थित बाजार में हुई. विद्रोहियों और नागरिकों को निशाना बनाकर आए दिन इस प्रांत में हमला होता है.

अभी तक यह साफ नहीं हुआ है कि आज के हमले के पीछे कौन लोग हैं . कुछ मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ इस धमाके में मारे जाने वालों की बढ़ सकती है और कई घायल भी हो सकते हैं.

उल्लेखनीय है कि सीरिया के इस इलाके अज़ाज़ में दूसरी जगहों से पलायन करके लोग में आकर रह रहे हैं. इस्लामिक स्टेट ने कई बार इस शहर को अपने कब्जे में लेने की कोशिश की है.

ब्रिटेन स्थित सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के मुताबिक मृतकों में कम से कम 14 विद्रोही हैं, लेकिन अधिकतर नागरिक थे जिसमें विभिन्न विद्रोही धड़े के पांच धार्मिक न्यायाधीश भी थे.

संगठन के प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने बताया कि मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है, क्योंकि विस्फोट में शव बुरी तरह क्षत-विक्षत हो गए.

समूह का कहना है कि इस हमले में मरने वालों की संख्या में इजाफा होने की आशंका है. फिलहाल हमले की किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन विस्फोट स्थल पर एक वकील ओसामा अल मेरही ने आईएस की ओर इशारा किया.

हाल के दिनों में कथित इस्लामिक स्टेट ने अज़ाज़ शहर को निशाना बनाया है. यह बम धमाका ऐसे वक़्त में हुआ है जब रूस और तुर्की की पहल पर सीरिया में संघर्षविराम चल रहा है. हिंसा की कुछ वारदातों के बावजूद आम तौर पर यह संघर्षविराम लागू है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY