इस्तांबुल में सांता क्लॉज़ बने आतंकियों का नाईट क्लब पर हमला, 35 की मौत

इस्तांबुल. तुर्की के इस्तांबुल में आतंकवादियों एक नाइट क्लब पर हमला कर दिया. सांता क्लॉज की पोशाक पहने क्लब में घुसे दो आतंकियों ने अंधाधुंध फ़ायरिंग की. अब तक की जानकारी के अनुसार हमले में 35 लोगों की मौत हो गई है. साथ ही कई लोगों के घायल होने की भी सूचना है.

बताया जा रहा है कि रात करीब 1 बजे (भारतीय समयानुसार रात 3 बजे) दो बंदूकधारियों ने नए साल का जश्न मना रही भीड़ पर अंधाधुंध फ़ायरिंग की. हमले के वक्त क्लब में 700 से 800 लोग मौजूद थे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बंदूकधारी ने क्लब में घुसने से पहले पुलिस पर फायरिंग की. बाद वो क्लब में भी अंधाधुंध फायरिंग करने लगा.

एक न्यूज एजेंसी के अनुसार रेयना नाइट क्लब जो कि शहर के अच्छे क्लबों में से एक हैं जहां पर लोग अकसर पार्टी के लिए एकत्र होते हैं, वहां पर दो लोग सांटा के कपड़ों में घुसे और अंधाधुंध फायरिंग करने लगे.

शहर के गवर्नर वासिप साहिन ने रिपोर्टरों को बताया कि इस गोलीबारी में कम से कम 35 नागरिकों की मौत हो गई है. मरने वालों में एक पुलिस अधिकारी भी शामिल है.

40 लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है. गवर्नर वासिप साहिन ने कहा, आज जो भी हुआ वह एक आतंकी हमला था.

एक न्यूज़ एजेंसी के अनुसार कुछ लोगों का कहना है कि आतंकी अरबी भाषा में बात कर रहे थे. एक स्थानीय टेलीविजन चैनल का कहना है कि पुलिस आतंकियों की खोजबीन में लगी है. पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया है और छानबीन की जा रही है.

टीवी रिपोर्ट के अनुसार, हमलावर शायद अब भी नाइटक्लब में ही है और लोगों को बाहर ले जाया जा रहा है. घटना के बाद पुलिस बल ने क्लब के आसपास का करीब 2 किमी का इलाका सीज़ कर दिया है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY