समाजवादी कलह में विदेशी हाथ! जार्डिंग की सलाह पर हो रहा पार्टी में ड्रामा

लखनऊ. मशहूर राजनीतिक रणनीतिकार और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर स्टीव जार्डिंग की सलाह के मुताबिक़ ही यूपी चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी में कलह और निष्कासन का खेल खेला जा रहा है. अखिलेश यादव ने चुनावी रणनीति बनाने के लिए जार्डिंग की सेवाएं ली हैं.

समाजवादी पार्टी की आतंरिक रणनीति से जुड़े एक ई-मेल के लीक होने से यह खुलासा हुआ है. इस ई-मेल के मुताबिक, सपा का झगड़ा केवल अखिलेश यादव की इमेज को चमकाने के लिए है. ये ईमेल जुलाई का है.

शुक्रवार को मुलायम द्वारा अखिलेश को पार्टी से बाहर किए जाने के कुछ ही देर बाद यह कथित मेल सामने आया, जो देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

दावा किया जा रहा है कि यह ईमेल 24 जुलाई को भेजा गया था. हालांकि इसकी प्रामाणिकता की अभी तक पुष्टि नहीं हो सकी है.

स्टीव जार्डिंग हावर्ड में पॉलिटिकल सांइस और पब्लिक पॉलिसी के सीनियर प्रोफेसर हैं. जार्डिंग अमेरिका के सीनियर नेताओं हिलरी क्लिंटन और अल गोरे के लिए चुनाव प्रचार का काम संभालने के अलावा स्पेट के प्रधानमंत्री का चुनावी प्रचार संभाल चुके हैं.

माना जा रहा है कि सीएम अखिलेश यादव की ‘बगावत’ के पीछे जार्डिंग का ही दिमाग है. अखिलेश ने अगस्त में अपनी चुनावी कैंपेन में मदद देने के लिए उन्हें अमेरिका से बुलाया था.

एक टीवी चैनल के पत्रकार राहुल कंवल ने एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने स्टीव जार्डिंग का एक इंटरनल लीक हुआ मेल शेयर किया.

इस ईमेल के स्क्रीनशॉट को सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में शेयर किया गया. ईमेल में जो बातें लिखी गई हैं, उससे यह पता चलता है कि समाजवादी पार्टी में चल रहा झगड़ा फिक्स है.

ईमेल के मुताबिक़ यह एक सोची समझी रणनीति है जिसके तहत चाचा (शिवपाल यादव) की कीमत पर अखिलेश की साफ छवि को और मजबूत बनाया जा रहा ताकि उन्हें भविष्य में पार्टी के नेता के रूप में प्रोजेक्ट किया जा सके.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY