Munecas Quitapenas : चिंताओं को दूर करने वाली गुड़िया

Munecas Quitapenas : Dolls that remove worries for friends
Munecas Quitapenas : Dolls that remove worries for friends

ग्वाटेमाला में माता पिता या अभिभावक अपने बच्चों को उनकी चिताओं से मुक्त करने के लिए एक लोक पारम्परिक तकनीक का प्रयोग करते हैं. ये बच्चों को सोने से पहले रात को कपड़े और लकड़ी से बनी छह गुड़ियाएं देते हैं. बच्चे इनमें से प्रत्येक गुड़िया को अपनी एक चिंता बोलते है और उसे अपने तकिये के नीचे रखकर सो जाते हैं.

फिर माना जाता है कि इन गुड़ियाओं का काम यह होता है कि वह उस बच्चे द्वारा कही गयी चिंता से उसे मुक्त करें और उसे आराम से नींद भर के सोने दे. रात को माता – पिता इन गुड़ियाओं को बच्चे के तकिये के नीचे से निकाल लेते हैं. सुबह बच्चा जब जगता है तो उसे यह पूरा विश्वास हो जाता है कि गुड़िया गायब होने के साथ ही उस की हरेक उससे कही गयी चिंता भी गायब हो गयी है.

चिताओं को दूर करने वाली इन गुड़िया ( Munecas Quitapenas : Dolls that remove worries) का अधिकतर प्रयोग वैसे तो माता – पिता ही अपने बच्चों के लिए किया करते थे. लेकिन अब तो बड़े भी अपने मित्रों को ऐसी गुड़िया भेंट करके वयस्कों पर भी इसका बहुतायत प्रयोग उनकी चिंताओं को दूर करने के लिए कर रहे हैं.

यह सब मय सभ्यता के काल से आजतक जारी एक लोक-पारंपरिक मनोवैज्ञानिक तकनीक है, जिसका उपयोग वहां चिंता दूर करने के लिए किया जाता है. यही नहीं आजकल मनोवैज्ञानिकों और न्यूरोसाइंटिस्टस के लिए भी ये गुड़िया अध्ययन का विषय बनी हुई है कि आखिर यह कैसे ऐसा कर पाती है. ग्वाटेमाला से ऐसी गुड़िया का दुनिया के कोने कोने तक निर्यात तक होने लग गया है और क्योंकि ग्वाटेमाला जाने वाला पर पर्यटक ये गुड़िया जरुर खरीद रहा है.

और क्यूं न हो ऐसा, यह है तो केवल उसी सिद्धांत पर आधारित कि आप अपनी चिंता अपने किसी शुभचिन्तक को कह कर जैसे कई बार खुद को हल्का या चिंतामुक्त महसूस करते हैं. लेकिन कई बार हाड़ – मांस का जैविक मानव अपनी कई चिंताओं के लिए किसी हाड़ – मांस के ही मानव को अपना शुभ-चिन्तक नहीं मानता है. तो वह अपनी किसी चिंता का किसी को राजदार बनाये बिना, लकड़ी और कपड़े से बनी ऐसी अपनी गुड़िया स्वयं ही बना सकता है या फिर किसी भी ऐसे साधन को अपना सकता है, जिससे वह चिंतामुक्त हो सके.

– ओम प्रकाश ‘हाथपसारिया’

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY