अजीत भारती प्राइम टाइम : सेव एनर्जी, लेट्स गो डार्क दिस क्रिसमस

0
42
ajeet bharti video on xmas

आइये और फ़र्स्ट वर्ल्ड के त्योहारों को दिल की गहराईयों में उतर कर मनाएँ…

नमस्कार,

ये अँधेरा ही आज के क्रिसमस की तस्वीर होनी चाहिए, लेकिन मुझे पता है नहीं होगी. क्योंकि बुद्धिजीवियों की सारी पुरानी अपीलों और कैम्पेनों का अर्थ क्रिसमस में आकर मैरी हो जाता है.

दीवाली में जो लाइट बचा लिए होंगे आप लोग, वो क्रिसमस में जलाईए ताकि माइनॉरिटी वैलकम फ़ील करे. जो पटाखा बचाए थे, उसको न्यू ईयर पर फोड़िएगा तो लगेगा कि ग्लोबल सिटीज़न है, सिटीज़न ऑफ़ दी वर्ल्ड.

ईद मनाते वक्त जो हलाल करने में होने वाले दर्द से बचने के लिए जो बकरे और गाएँ बच गई थीं, उनको अब काट लीजिए. वैसे टर्की तो खाए ही होंगे थैंक्सगिविंग में. टर्की को ऋषि-मुनि का वरदान है कि थैंक्सगिविंग के दिन, ४३ मिलियन हर साल, और क्रिसमस के दिन, २२ मिलियन हर साल, उसको सीधा जीसस बाबा की दाढ़ी से खलने का सुख प्राप्त होगा.

और हाँ टर्कियों को मरते वक्त ईद के बकरे, यूलिन फ़ेस्टिवल के कुत्ते और नेपाल वाले भैंसा कटने वाले पर्व के विपरीत बिल्कुल भी कोई दर्द नहीं होगा क्योंकि ये फ़र्स्ट वर्ल्ड वालों का पर्व है ना. उन्होंने कहा है तो नहीं होता होगा.

और दुनिया में कितना क्राइसिस है मालूम? आपको पता है क्रिसमस का लाइट जो जलाते हैं लोग उसकी एनर्जी यानि बिजली कहाँ से आती है? वो किसी भी थर्मल पावर स्टेशन से नहीं आती. उसकी बिजली सीधा जीसस दाढ़ी के बालों में लगे करोड़ों नैनो विण्डमिल के नाचने से आती हैं.

क्रिसमस की सारी लाइट क्लीन एनर्जी से आती है जिसके उत्पादन में कोई भी पॉल्यूशन नहीं होता. ये मुझे सैंटा ने बताया है फोन करके. जियो पर बात हुई तो विडियो चैट हुई हाय-डेफिनिशन पर. जाते जाते बोल रहा था कि होली में पानी जरूर बचाना, वो टर्की को मारते वक्त निकलने वाले ख़ून को धोने के काम आता है.

और बीफ बर्गर के लिए मरने वाली गायों के माँस को भी धोने में होली में बचाया पानी ही इस्तेमाल होता है. फ़र्स्ट वर्ल्ड के ईसाईयों और उनके द्वारा पोषित भारतीय बुद्धिजीवियों के लिए, जो दोगले क्वालिटी के हैं, उनके लिए वर्जिन मैरी ने कहा कि इतना तो करना बनता है.

आँ आँ आँ… आई विल डू दैट टू यू… आई एम स्टिल डूईंग इट… यू लाइक इट, डोन्ट यू?

वीडियो –

 

 

इसे भी पढ़ें –सोशल पर वायरल : केरल के बच्चों को पढ़ाया जा रहा है हिन्दू विरोधी पाठ

क्रिसमस का यही तोहफा ले लो…

महात्मा ईसा, भारत और मतान्तरण का धंधा.

चर्च और मानव जाति के लिये सद्कामनाओं के साथ क्रिसमस की शुभकामनायें

 

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY