जयललिता के निधन पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने व्यक्त किया दु:ख, मोदी जाएंगे चेन्नई

नई दिल्ली. तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता का चेन्नई के अपोलो अस्पताल में सोमवार रात निधन हो गया. वह 68 वर्ष की थीं.

उनके निधन के बाद पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई नेताओं ने गहरा दुख जताया. प्रधानमंत्री उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए चेन्नई भी जाएंगे.

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि तमिलनाडु के विकास में उनके योगदान को लंबे समय तक याद किया जाएगा. जयललिता के निधन से देश ने एक प्रमुख व्यक्तित्व को खो दिया है. जिसे लागों लोग प्यार करते थे. उन्होंने अपना पूरा जीवन सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन लाने लाने में लगा दिया.

प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि जयललिता के निधन से भारतीय राजनीति में गहरा शून्य उत्पन्न हो गया है. संकट की इस घड़ी में  मेरी संवेदनाएं तमिलनाडु की जनता के साथ हैं. ईश्वर उन्हें इस दुख को सहन करने की शक्ति दे.

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, मैं अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं. मैं तमिलनाडु की जनता से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं. जयललिता भारतीय राजनीति का एक प्रमुख चेहरा थीं जिनका तमिलनाडु की जनता पर व्यापक प्रभाव था.

डीएमके के कोषाध्‍यक्ष एम के स्टालिन ने शोक व्‍यक्‍त करते हुए कहा, ‘हमारी मुख्यमंत्री सेल्वी जयललिता के निधन से बेहद दुखी हूं, वह ‘आयरन लेडी’ थीं’.

केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत, पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी उनके निधन पर शोक प्रकट किया.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY