भारतीय सेना की शौर्यगाथा : लोंगेवाला में आधी रात का भीषण युद्ध

india-pak-longewala-war-1971

आज से 45 साल पहले आज के ही दिन भारत – पाक सीमा पर लोंगेवाला में आधी रात से वह भीषण युद्ध हुआ था.

इसमें भारतीय सेना के 120 जवानों ने मेजर कुलदीप सिंह चांदीपुरी के नेतृत्व में पाकिस्तान के 2800 जवानों, 65 टैंक, 138 मिलिट्री गाड़ियों, 5 फिल्ड गनों और 3 एंटी एयर क्राफ्ट गनों का मुकाबला सुबह होने तक अकेले ही अदम्य साहस और वीरता से किया था.

इनके 12 टैंक अकेले मेजर चांदीपुरी ने ही ध्वस्त किये थे. 22 टैंक भारतीय वायुसेना के जेट विमानों ने सुबह की पहली किरण निकलने के साथ ही ध्वस्त कर डाले थे, जिनका नेतृत्व विंग कमांडर एम एस बावा ने किया था.

और बाकी टैंक भारतीय सेना ने अपने कब्जे में ले लिए थे, जो आज भी कई शहरों में इस युद्ध की विजय के स्मृति चिन्हों के रूप में चौराहों या छावनियों के मुख्य द्वारों पर स्थापित हैं.

– ओमप्रकाश ‘हाथपसारिया’

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY