आज सचमुच 90 प्रतिशत भारत मोदी के साथ है

यूँ कह लीजिये कि मोदी सेना का एकछत्र राज है सोशल मीडिया पर. यहाँ मोदी विरोधी कांग्रेसी और सपा बसपा वाले कहीं नज़र नहीं आते. हां, कौमनष्ट और आपिये-अपोले कुछ कोशिश करते नज़र आते हैं लेकिन मोदी सेना के सामने टिक नहीं पाते.

0
210

मोदी जी अपने राजनैतिक जीवन में सोशल मीडिया का बखूबी उपयोग करते हैं.

ये एक कड़वी सच्चाई है कि देश का मेन स्ट्रीम मीडिया ज़्यादातर कांग्रेसपरस्त रहा है. मोदी विरोधी.

पर सोशल मीडिया पर मोदी भक्तों का कब्जा है. यूँ कह लीजिये कि मोदी सेना का एकछत्र राज है सोशल मीडिया पे.

यहाँ मोदी विरोधी कांग्रेसी और सपा बसपा वाले कहीं नज़र नहीं आते. हां, कौमनष्ट और आपिये-अपोले कुछ कोशिश करते नज़र आते हैं पर मोदी सेना के सामने टिक नहीं पाते.

हाल ही में मोदी जी ने नोट बंदी पर सर्वे कराया. 90% से ज़्यादा लोगों ने समर्थन किया है. अब इसे विपक्षी कह रहे हैं कि ये तो भक्तों का सर्वे है.

अरे भैया Namo App सबके लिए खुला है.

समूचे विपक्ष को 65% हिन्दुस्तान का समर्थन प्राप्त था 2014 के लोकसभा चुनाव में.

मोदी जी ने जब Namo App पर सवाल पूछे तो आप अपने कार्यकर्ताओं / समर्थकों / voters का आह्वान करते कि मित्रों…. ज़्यादा से ज़्यादा संख्या में Namo App डाउनलोड करो और इस दुष्ट मोदी को नोटबंदी पे आइना दिखाओ.

5 लाख मोदी भक्तों ने नमो App पे नोट बंदी का समर्थन किया….

सोनिया, मुलायम, मायावती, मोमता, केजरीवाल, येचुरी, लालू जादो, इन सबने मिल के अगर 20 लाख लोगों को इस सर्वे में उतार दिया होता तो क्या नतीजा आता?

यही न कि 80% भारत नोट बंदी के विरोध में है….

पर सवाल ये है कि देश का समूचा विपक्ष 20 लाख आदमी जुटा सकता है मोदी सेना के सामने???

जवाब है… नहीं….

नोट बंदी पे आप एक लाख आदमी नहीं जुटा पायेंगे अपने पक्ष में जनाब….

आज सचमुच 90% भारत मोदी के साथ है.

उपचुनाव और महाराष्ट्र के स्थानीय निकाय चुनावों ने इसकी झलक दे भी दी है.

2017 में भाजपा यूपी बिहार लूट लेगी…

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY