नोटबंदी से उड़ गई ममता, केजरीवाल और राहुल की रातों की नींद : अमित शाह

बेंगलुरु. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1,000 के पुराने नोट को चलन से बाहर करने के कदम से राहुल गांधी, ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल की रातों की नींद उड़ गई है.

शाह ने भाजपा की एक ओबीसी रैली में कहा कि इस फैसले से वे लोग आहत हैं जिनका काला धन पूरी तरह से बेकार हो गया है.

उन्होंने कहा, नोटबंदी कदम के चलते कांग्रेस नेता राहुल गांधी, ममता, अरविंद केजरीवाल की रातों की नींद उड़ गई है और उनके चेहरों की चमक भी चली गई है.

उन्होंने कहा, 7 नवंबर तक विपक्षी पार्टियां बीएसपी, एसपी, कांग्रेस, ममता और अरविंद केजरीवाल काला धन वापस लाने के लिए मोदीजी के कदम को लेकर सवाल उठाते थे, लेकिन 8 नवंबर की आधी रात के बाद से उन्होंने अपने स्वर बदल दिए. उन्होंने यह पूछना शुरू कर दिया कि उन्होंने यह (नोटबंदी) क्यों की.

शाह ने नोटबंदी के खिलाफ आपस में हाथ मिलाने के लिए विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि यह to बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है.

उन्होंने कहा, बाढ़ में आप देखते हैं कि एक चूहा, बिल्ली, नेवला और सांप सभी अपने को पानी के तेज बहाव से बचाने के लिए एक ही पेड़ पर चढ़ जाते हैं.

इसके एक दिन पहले आंध्र प्रदेश में अमित शाह ने कहा था कि विपक्षी नरेन्द्र मोदी सरकार की हर चीज का सिर्फ इसलिए विरोध करना चाहते है क्योंकि उनके पास और कोई मुद्दा उठाने के लिए नहीं है.

शाह ने आंध्र प्रदेश भाजपा द्वारा शनिवार को शाम यहां आयोजित एक विशाल किसान रैली को संबोधित करते हुए कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है.

उन्होंने कहा कि मुद्दा न होने के चलते लगातार नरेन्द्र भाई जो कुछ कर रहे हैं उसका यह विरोध कर रहे हैं. यदि मोदी कहते हैं कि आज सोमवार है, तो वे कहते हैं कि नहीं-नहीं मंगलवार है.

उन्होंने कहा कि दुनिया ने पाकिस्तान पर नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा किए गए ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की सराहना की लेकिन सिर्फ कांग्रेस ने इसकी आलोचना की.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY