POK को देश का अभिन्न अंग बताने पर बोले अब्दुल्ला, ‘क्या ये तुम्हारे बाप का है’

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व केंद्रीय मंत्री फारूक़ अब्दुल्ला ने भारतीय संसद में पाकिस्तान के कब्ज़े वाले कश्मीर (POK) को देश का अभिन्न अंग बताए जाने वाले प्रस्ताव पर बोलते हुए कहा, ‘क्या ये तुम्हारे बाप का है.’

जिस कार्यक्रम में फारुक़ ने ये कहा उसमें उनके बेटे और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला भी मौजूद थे.

उल्लेखनीय है कि भारत का दावा रहा है कि पाकिस्तान के कब्ज़े वाले कश्मीर सहित पूरा कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. भारतीय संसद ने सर्वसम्मति से इस आशय का एक प्रस्ताव भी पारित किया है.

न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार जम्मू-कश्मीर की चेनाब घाटी में आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते हुए अब्दुल्ला ने कहा, ‘पीओके अभी पाकिस्तान के कब्जे में है. ये भारत की निजी जायदाद नहीं है इसलिए वो उस पर अपने बाप-दादाओं से मिली जायदाद की तरह दावा नहीं कर सकता.’

अब्दुल्ला ने कश्मीर मसले पर पाकिस्तान को भी एक पक्ष बताया. अब्दुल्ला ने कहा, ‘भारत सरकार ने भी इसे स्वीकार किया है.’

अब्दुल्ला ने कहा कि भारत सरकार के पास पाकिस्तान से बातचीत के अलावा कोई विकल्प नहीं है ताकि ‘जम्मू-कश्मीर में जनता पर किए जा रहे अत्याचार का अंत हो सके.’

अब्दुल्ला ने कहा कि भारत में इतनी हिम्मत नहीं है कि वो पीओके को पाकिस्तान से वापस ले सकें और न ही पाकिस्तान में कश्मीर को छीनने का माद्दा है.

अब्दुल्ला ने कहा, ‘दोनों देशों के बीच फंस कर कश्मीर की मासूम जनता को कष्ट सहना पड़ रहा है.’

अब्दुल्ला ने पीएम मोदी की मां द्वारा बैंक में जाकर बंद किए गए नोट बदलवाने पर तंज कसते हुए कहा कि अच्छी औलाद अपनी मां को कष्ट से बचाने के लिए कोई भी कुर्बानी दे सकती है.

पीएम मोदी पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि जिसकी शादी न हुई हो उन्हें इस बात का अहसास नहीं हो सकता कि ढाई लाख में बेटियों का ब्याह करना मुमकिन नहीं है.

अब्दुल्ला ने कहा कि पीएम मोदी को नोटबंदी के फैसले से देश की जनता को हुई दिक्कतों के लिए माफी मांगनी चाहिए.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY