पीएम पर सख्त मुलायम ने दी सीख, घमंड में रहने वाले का सर होता ही है नीचा

गाजीपुर. कुख्यात बाहुबली अंसारी बंधुओं की दम पर गाजीपुर में जुटाई गई भीड़ में सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर खूब बरसे.

उल्लेखनीय है बाहुबली अंसारी बंधुओं के कौमी एकता दल का समाजवादी पार्टी में विलय हो चुका है.

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस विलय पर अपनी नाराज़गी दिखाई थी जिसके बाद पार्टी में संघर्ष शुरू हुआ था.

संभवत: इसी नाराज़गी के चलते अखिलेश पार्टी प्रमुख मुलायम के इस आयोजन में शामिल नहीं हुए. हालांकि रैली में उनके भी आने की खबरें प्रचारित की जा रहीं थी.

अंसारी बंधुओं के गढ़ में समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि वह घमंड में चूर हैं.

वहीं अखिलेश यादव को हटाकर प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए शिवपाल यादव ने कहा, चुनाव के वक्त मोदी ने अच्छे-अच्छे नारे दिए थे, लेकिन आज नोटबंदी की वजह से गरीब, किसान, गृहणियां सभी दुखी हैं.

दिलचस्प बात यह है कि कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गाजीपुर के इसी आरटीआई मैदान से जनता को संबोधित कर चुके हैं.

मुलायम सिंह यादव ने नोटबंदी को देश के किसानों और व्यापारियों को बर्बाद करने वाला फैसला बताया. उन्होंने कहा कि किसान-कारोबारी बर्बाद हुए तो इससे देश को बड़ा नुकसान होगा.

मुलायम ने कहा कि मोदी कह रहे हैं कि आज जो ईमानदार है सुख की नींद सो रहा है. मैं पूछना चाहता हूं नोट बदलने के लिए बैंकों के सामने लाइन में कई दिन से लगने वाले लोग क्या बेईमान है.

उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री का ऐसा बयान उनके घमंड को दिखाता है. यह घमंड लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है.

मुलायम ने चेतावनी देते हुए कहा कि उनका उद्देश्य क्या है पता नहीं? लेकिन जो घमंड में रहता है उसका सिर जरूर नीचा होता है.

मुलायम ने कहा कि हमसे कालेधन को लेकर कोई सलाह नहीं ली गई. यह लोकतंत्र का हनन करने वाला कदम है.

इस रैली में पीएम मोदी की रैली की तुलना में दोगुना भीड़ होने का दावा किया जा रहा है. रैली सफल हो सके इसके लिए अंसारी बंधु एक पखवाड़े से जुटे हैं थे.

मुलायम की रैली में बनारस, जौनपुर, भदोही, चंदौली, मिर्जापुर, बलिया, मऊ और आजमगढ़ से बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी शामिल हुए.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY