नितीश-अजीत मिलकर लड़ेंगे यूपी की जंग

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र सभी पार्टियां अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए समान विचारधारा वाले लोगों के साथ समझौता करने में जुटी है.

भारतीय जनता पार्टी की प्रबल संभावनाओं को देखते हुए उसे रोकने कई दलों के गठबंधन की बात उड़ी लेकिन कुछ ठोस नहीं हो सका.

ऐसे में जदयू और राष्ट्रीय लोकदल में गठबंधन की खबर आई है. हालांकि उत्तरप्रदेश के हिस्से में बेहद सीमित जनाधार वाले अजीत सिंह के लोकदल और नितीश कुमार के शून्य जनाधार वाले जदयू के गठजोड़ को ख़ास तवज्जो नहीं मिल सकी.

एक समाचार एजेंसी के अनुसार राष्ट्रीय लोकदल और जदयू के बीच गठबंधन हो गया है और वे साथ चुनाव मैदान में उतरेंगे.

पहले ऐसी खबरें आ रहीं थीं कि समाजवादी पार्टी सभी समाजवादियों को एकजुट करने में जुटी है और वह गठबंधन के साथ चुनाव मैदान में उतरेगी.

इसके लिए शिवपाल यादव ने शरद यादव और अजीत सिंह से मुलाकात भी की थी. ऐसी खबरें भी आयी थी सपा कांग्रेस के साथ समझौता कर सकती है.

इन अटकलों पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था कि कोई साथ आना चाहता है तो हमें इनकार नहीं है, लेकिन अंतिम फैसला नेताजी ही करेंगे.

वहीं गठबंधन के सवालों पर मुलायम सिंह यादव ने यह कहा कि हम किसी पार्टी के साथ कोई गठबंधन नहीं कर रहे हैं, हम अकेले ही चुनाव मैदान में जायेंगे.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष फरवरी मार्च में चुनाव होना है और भारतीय जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच मुख्य मुकाबला माना जा रहा है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY