दिक्कत है भी तो देश के लिए बर्दाश्त कर लीजिए, यकीन करिए मरेंगे नहीं

प्रधानमंत्री मोदी ने काले धन के खिलाफ जो निर्णय लिया वो भारत के इतिहास में दर्ज होगा.

देश में ऐसे ही हज़ारों क्रांतिकारी निर्णय लिए जाने की ज़रूरत है. देश का कोई भी ऐसा क्षेत्र नहीं जहां सख्त कदम उठाये जाने की ज़रूरत न हो.

नरेंद्र मोदी ने पहले पाकिस्तानी कब्ज़े वाले कश्मीर में घुस कर सैन्य कार्यवाही की और अब ये काले धन पर कार्यवाही कर दी.

इस से एक बात सिद्ध हो गयी कि मोदी साहसिक निर्णय ले सकते हैं.

मुझे लगता है कि अगले दो साल तक मोदी इसी तरह, हर महीने – दो महीने पर, ऐसे ही साहसिक और क्रांतिकारी निर्णय लेते रहेंगे.

भारत का तो पूरा सिस्टम ही सड़ रहा है. हर जगह क्रान्ति की ज़रूरत है.

मोदी हर महीने – दो महीने पर क्रान्ति करते रहेंगे. मोदी अगले 10-20 साल अब नहीं जाने वाले.

कल जबकि मोदी जी की काले धन पर हुई सर्जिकल स्ट्राइक के परमानंद से मैं बाहर निकला तो मैंने अपनी जेबें टटोली.

कुल जमा 190 रूपए हैं, बाकी के फिलहाल किसी काम के नहीं.

अभी अलीगढ में हूँ. वापस घर कब पहुंचूंगा, पता नहीं.

ये 190 रूपए कितने दिन या कितने घंटे चलेंगे, पता नहीं.

क्या-क्या दिक्कतें आएँगी, पता नहीं.

बेशक़ दिक्कतें आएँगी. अगले दो महीने कुछ दिक्कतें आ सकती हैं.

पर इतना तय है कि मैं मरूँगा नहीं. I am not going to die.

कल जब मोदी जी ने काले धन पर सर्जिकल स्ट्राइक की घोषणा की तो कुछ presstitutes सिर्फ़ यही दिखाती रहीं कि हाय मर गए…. कल सब्जी कैसे खरीदेंगे… बहुत दिक्कत होगी.

हाँ, कुछ दिन दिक्कत होगी. पर मेरा विश्वास करो, मरोगे नहीं.

पर मोदी जी का एक अकेला ये निर्णय, एक नए गौरवशाली सशक्त भारत की नींव रखेगा.

हिम्मत रखिये, धैर्य रखिये… कुछ दिन की दिक्कत है, बर्दाश्त कर लीजिए… देश के लिए…

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY