विकास की दौड़ में दूसरे राज्यों से टक्कर ले रहा नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ : पीएम

pm-narendra-modi-s-raipur-visit

रायपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दिवसीय दौरे पर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंचे. यहां उन्होंने राज्योत्सव का शुभारंभ किया.

छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस के मौके पर उन्होंने कहा कि देश की हर समस्या का निदान विकास के मार्ग से होगा. हम विकास के पथ पर आगे बढ़ रहे है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम भाग्यशाली हैं कि अटल जी जैसे महान नेता ने हमें छत्तीसगढ़ दिया.

उन्होंने कहा, 16 साल पहले जब छत्तीसगढ़ बना तो किसी ने नहीं सोचा था कि नक्सल प्रभावित राज्य आगे चलकर भारत के अन्य राज्यों के साथ विकास की दौड़ में टक्कर लेगा.

उन्होंने कहा कि सन 2000 में अटल बिहारी वाजपेयी ने बहुत ही शांतिप्रद तरीके से तीन नए राज्य (छत्तीसगढ़, उत्तरांचल और झारखंड) बनाए थे.

प्रधानमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पर्यटन के विकास की बहुत संभावना हैं. कुछ सालों बाद जब यहां लोग आएंगे तो देखेंगे कि एक छोटा सा राज्य भी क्या कमाल कर सकता है.

उन्होंने कहा, टूरिज्म के क्षेत्र में कम पूंजी के निवेश से कई लोगों को रोजगार मिल सकता है. भविष्य में टूरिज्म के नए डेस्टिनेशन बनेंगे. इससे लोगो को रोजगार मिलेगा.

देश का भला गरीबी से मुक्ति में ही है. इसके लिए महिलाओं को वुमन एम्पावरमेंट योजना से जोड़ा गया है. पहले गैस कनेक्शन पाना कठिन था, लेकिन अब आसान है.

हम हर गरीब बच्चे को जिसकी शिक्षा पूरी नहीं हो सकी, उसे कौशल विकास कार्यक्रम के तहत लाकर अच्छी नौकरी पाने में सक्षम चाहते हैं.

प्रधानमंत्री ने एशिया के सबसे बड़े मानव निर्मित जंगल सफारी का उद्घाटन और नया रायपुर से पुराने रायपुर के बीच सार्वजनिक परिवहन बसों के लिए रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (बीआरटीएस) का शुभारंभ किया.

इस मौके पर उन्होंने रायपुर की नई राजधानी में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की चौदह टन वजनी और पंद्रह फिट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया.

इस प्रतिमा को राजस्थान के मूर्तिकारों ने तैयार किया है. इसके बाद प्रधानमंत्री ने एकात्म मार्ग का शुभारंभ किया.

प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर ओडीएफ ग्रामो के लिए अच्छा काम करने वाले प्रतिनिधियों को सम्मनित भी किया.

मुख्यमंत्री रमन सिंह ने प्रधानमंत्री को नए रायपुर में करीब 320 हेक्टेयर क्षेत्र में 200 करोड़ की लागत से यह मानव निर्मित जंगल सफारी की सैर कराई.

इसमें शेर, बाघ समेत दूसरे और वन्य जीवो को प्राकृतिक वातावरण मुहैया कराया गया है. प्रधानमंत्री ने यहां बाघ की कई तस्वीरे लीं.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY