अन्तर्राष्ट्रीय शोधकर्ता सिद्ध कर देंगे, तभी दोबारा अपनाएंगे प्राचीन ग्रामीण जीवनशैली?

healthy life style

ब्रिटेन के एडिनबर्ग विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने शोध करके दावा किया है कि हृदय सम्बन्धी अधिकतर बीमारियों की की जड़ में तेज आँच पर बना खाना है.

इसलिए कम आँच पर बना खाना खा कर दिल की बहुत सी बीमारियों से बचा जा सकता है. सफोला और संड्रॉप के तेल में बना खा कर भी दिल की बीमारियों से ग्रसित लोगों की संख्या बढ़ने का एक कारण गैस के चूल्हे और माइक्रोवेव भी हैं.

समझ में आया न?

धनतेरस पर गैस चूल्हा खरीदने का प्रोग्राम कैंसिल करके मिट्टी का चूल्हा बना लेना ही समझदारी है. हमारे पूर्वज हमसे ज्यादा समझदार थे इसलिए बिना लो फैट ऑयल की पुरी- सब्जी के ही दिल की बीमारियों से दूर रहते थे.

कुछ दशक में अन्तर्राष्ट्रीय शोधकर्ता सिद्ध कर देंगे कि हमारी प्राचीन जीवनशैली ही सही थी और उसके लिए तो गाँव में ही रहना पड़ेगा. परन्तु मोदी जी के स्मार्ट गाँव में नहीं नानाजी देशमुख के ग्रामोदय वाले गाँव में.

इस दिवाली एनसीआर में फ्लैट में इन्वेस्ट करने से अच्छा है कि गाँव में जमीन खरीदी जाए. अपने स्वास्थ्य का तो जितना बिगाड़ना था बिगड़ गया कम से कम बच्चों का स्वास्थ्य तो सुरक्षित रहेगा.

तो क्या सोच रहे हैं! लौट चलें गाँव की ओर?

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY