त्योहारी मौसम में रहें सतर्क, आपको मिलने वाला नोट नकली तो नहीं!

indian-currency-500-and-1000-notes

नई दिल्ली. त्योहारी सीज़न शुरू होने के साथ जहां बाज़ारों में चहलपहल हो गई है, वहीं ऐसे में उपभोक्ताओं के ठगे जाने की आशंका भी बढ़ गई है.

आम जनता को इस बारे में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सचेत किया है. दरअसल इन दिनों बाज़ार में एक हज़ार और पांच सौ के नकली नोटों के चलन में आने की आशंका है.

RBI ने जनता से अपील कर 1000 और 500 रुपए के नोट जांच परख कर ही लेने को कहा है. हाल में नकली करेंसी को लेकर घटी गतिविधियों के मद्देनजर केंद्रीय बैंक ने यह अपील की है.

केंद्रीय बैंक ने अपील में कहा है कि कुछ असामाजिक तत्व आम लेन-देन में उच्च मूल्य के नकली नोटों का प्रसार कर रहे हैं. इसलिए लोग 1000 और 500 के नोटों को भलीभांति जांच कर स्वीकार करें.

हाल के ही दिनों में देश के कई शहरों में नकली नोटों की धरपकड़ की गई है. बीते 9 अक्टूबर को कानपुर से 3.97 लाख की नकली मुद्रा पकड़ी गई.

जीआरपी के मुताबिक जाली नोट ले जाने वाला व्यक्ति बिहार के कटिहार जिले से चढ़ा था और वो दिल्ली की तरफ जा रहा था.

इसी तरह जयपुर पुलिस ने बीते 17 अक्टूबर को जाली नोट बनाने वाले एक गैंग के चार लोगों को पकड़ा.

इसके अलावा 25 अक्टूबर को एनआई ने भी नेपाल के एक फेक करेंसी रैकेट को दबोचा था. हाल ही में दिल्ली-एनसीआर में नकली सिक्के बनाने की कई फैक्ट्री पकड़ी गई हैं.

वाटरमार्क, लेटेंज इमेज और सिक्योरिटी थ्रेड जैसे तमाम ऐसे सुरक्षा मानक होते हैं जिनके आधार पर आसानी से यह पता लगाया जा सकता है कि नोट असली है या नकली.

ये तमाम फीचर्स रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से समय-समय पर बदले और पुख्ता किए जाते रहते हैं, ताकि नकली करेंसी सिस्टम में कम-से कम मात्रा में आ पाए.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY