महज़ चार साल में टाटा संस से मिस्त्री की विदाई, रतन टाटा ने संभाली कमान

rata_tata_cyrus_mistry

नई दिल्‍ली. टाटा संस के बोर्ड ने साइरस मिस्त्री को चेयरमैन पद से हटा दिया है. उनकी जगह रतन टाटा को चार महीने के लिये अंतरिम चेयरमैन नियुक्त किया गया है.

महज़ चार साल पहले मिस्त्री को 100 अरब डॉलर की विशाल कंपनी समूह टाटा संस का नेतृत्व सौंपा गया था.

अब उनको हटाए जाने के बाद समूह ने रतन टाटा को चार महीने के लिये अंतरिम चेयरमैन नियुक्त किया है. इस दौरान पांच सदस्यीय एक खोज समिति नये चेयरमैन की नियुक्ति करेगी.

खोज समिति में टाटा के अलावा, उद्योगपति वेणु श्रीनिवासन, बेन कैपिटल प्राइवेट इक्विटी के प्रबंध निदेशक अमित चंद्रा, राजनयिक एवं अमेरिका में भारत के पूर्व राजदूत रोनेन सेन तथा वार्बिक मैन्यूफैक्चरिंग ग्रुप के संस्था एवं चेयमैन तथा भारतीय प्रबंध संस्थान खड़गपुर के स्नातक लार्ड कुमार भट्टाचार्य को रखा गया है.

जब सायरस मिस्‍त्री की ताजपोशी हुई थी तब उस वक्‍त कंपनी का कारोबार 100 अरब डॉलर था और बोर्ड ने कंपनी की बागडोर मिस्‍त्री के हाथ में देते हुए 2022 तक उनके लिए इस कारोबार को 500 अरब डॉलर तक पहुंचाने का लक्ष्‍य दिया था.

‘द इकोनॉमिस्‍ट’ ने हाल में टाटा ग्रुप पर एक पीस लिखा था और उसमें बताया गया था कि सायरस के नेतृत्‍व में ग्रुप उस रफ्तार से आगे नहीं बढ़ पा रहा है जो अपेक्षाएं उनसे की गई थीं.

सायरस मिस्त्री ने 29 दिसंबर 2012 को रतन टाटा की जगह टाटा समूह की इस होल्डिंग कंपनी के चेयरैमन का पद संभाला था.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY