‘विराट’ पारी से जीती टीम इंडिया, सीरीज़ में 2-1 की बढ़त

virat-dhoni-mohali-odi

मोहाली. भारत और न्यूजीलैंड के बीच 5 मैचों की सीरीज के तीसरे वनडे में विराट कोहली की सचमुच ‘विराट’ पारी की बदौलत टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हरा दिया.

कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 134 गेंदों में 154 रन बनाये जबकि कप्तान धोनी ने 80 रनों का योगदान दिया.

इससे पहले जेम्स नीशाम और मैट हेनरी के बीच नौवें विकेट की रिकॉर्ड 84 रन की साझेदारी से न्यूजीलैंड ने 285 रन बनाए.

न्यूजीलैंड ने दौरे पर लगातार सातवां टॉस हारा जिसके बाद भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने रात को ओस की संभावना को देखते हुए पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया.

न्यूजीलैंड की टीम एक समय 199 रन पर आठ विकेट गंवाने के बाद संकट में थी लेकिन जेम्स नीशाम (47 गेंद में 57) और मैट हेनरी (37 गेंद में नाबाद 39) के बीच नौवें विकेट की रिकॉर्ड 84 रन की साझेदारी की बदौलत 49.4 ओवर में 285 रन का मजबूत स्कोर खड़ा करने में सफल रही.

नीशाम ने अपनी पारी में सात चौके मारे जबकि हेनरी ने चार चौके और एक छक्का जड़ा. टॉम लैथम (61) ने भी अर्द्धशतक जड़ने के अलावा रॉस टेलर (44) के साथ तीसरे विकेट के लिए 73 रन जोड़े.

भारत की ओर से केदार जाधव (29 रन पर तीन विकेट) और अमित मिश्रा (46 रन पर दो विकेट) ने एक बार फिर उम्दा गेंदबाजी की.

तेज गेंदबाज उमेश यादव ने तीन विकेट चटकाए लेकिन उन्होंने 10 ओवर में 75 रन लुटाए. जसप्रीत बुमराह ने भी 52 रन देकर दो विकेट हासिल किए.

जीत के लिए 286 रनों का लक्ष्य लेकर खेलने उतरी टीम इंडिया को उस वक्त ज़बरदस्त झटका लगते-लगते रह गया जब कोहली महज़ छह रन के निजी स्कोर पर आउट होते-होते बचे. हेनरी की गेंद पर स्लिप में टेलर ने उनका आसान कैच छोड़ दिया.

कोहली ने इस जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए 134 गेंद में 16 चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 154 रन की पारी खेलने के अलावा धोनी (80) के साथ तीसरे विकेट के लिए 27.1 ओवर में 151 रन की साझेदारी भी की.

कोहली ने मनीष पांडे (34 गेंद में नाबाद 28, तीन चौके) के साथ चौथे विकेट के लिए सिर्फ 12.3 ओवर में 97 रन की अटूट साझेदारी भी की.

कोहली की यह पारी पंजाब क्रिकेट संघ स्टेडियम पर किसी भी बल्लेबाज का सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत प्रदर्शन है.

भारत ने 286 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 10 गेंद रहते तीन विकेट पर 289 रन बनाकर जीत दर्ज की.

मैच के दौरान धोनी ने अपनी पारी में 22 रन बनाते ही वनडे क्रिकेट में 9000 रन पूरे करे. उन्होंने सेंटनर पर छक्का सीधा छक्का जड़कर यह उपलब्धि हासिल की. वह 9000 या इससे अधिक रन बनाने वाले दुनिया के 17वें और भारत के पांचवें बल्लेबाज हैं.

भारतीय बल्लेबाजों में धोनी से पहले सचिन तेंदुलकर (18426), सौरव गांगुली (11363), राहुल द्रविड़ (10889) और मोहम्मद अजहरूद्दीन (9378) यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY